सौर कलंक किसे कहते हैं ? What is Sunspot in Hindi

सौर कलंक किसे कहते हैं ? What is Sunspot in Hindi, चलिये जानें सौर कलंक यानि Sunspots के बारे में, हिन्दी में


इससे पहले चलिये जानें थोड़ा सा सूर्य के बारे में, सूर्य की बाहरी संरचना में तीन स्तर पाये जाते हैं |

1. प्रकाश मण्डल (Photosphere)

2. वर्णमण्डल (Chromosphere)

3. किरीट (Corona)


  • प्रकाश मण्डल सूर्य का धरातल है जिसका औसत तापमान 6000॰C रहता है |
  • सूर्य के वायुमंडल को ही वर्णमण्डल कहा जाता है, इसका रंग लाल पाया जाता है |
  • सूर्य का सबसे बाहरी भाग सूर्य मुकुट या किरीट कहलाता है|

चलिये अब समझते हैं सौर कलंक को –

प्रकाश मण्डल के ऊपर का जिस हिस्से का औसत तापमान 1500॰C से कम कम पाया जाता है वो सौर कलंक यानि Sunspots कहलाता है, इस धब्बे का जीवनकाल कुछ घंटे से लेकर कुछ सप्ताह तक होता है। कई दिनों तक सौर कलंक बने रहने के पश्चात रेडियो संचार में बाधा आती है।

sunspots in hindi

सौर कलंक के अंदर के अधिक काले भाग को अम्ब्रा (Umbra) तथा बाहरी भाग को जो कि अपेक्षाकृत कम काला होता है उसे पेन अम्ब्रा (Pen Umbra) कहा जाता है |

 

Total
0
Shares
1 comment
Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts
Read More

क्या होती है प्रायद्वीपीय नदियाँ तथा उनकी अपवाह द्रोणियाँ?

प्रायद्वीपीय नदियाँ भारत के पश्चिमी तट पर स्थित पर्वत श्रृंखला को पश्चिमी घाट  या सह्याद्रि कहते हैं। भारत में…
हमारा Android App (GuideBook-The Most Powerful Preparation App) डाउनलोड कीजिये !
Download