छतीसगढ़ | सामान्य ज्ञान | सभी महत्वपूर्ण तथ्य

  • स्थापना -1 नवम्बर, 2000
  • क्षेत्रफल -135198 वर्ग किमी
  • लिंगानुपात -991
  • भाषा -हिन्दी
  • राजधानी -रायपुर
  • जनसंख्या -25540196
  • साक्षरता -71.04%
  • जनसंख्या घनत्व -189
  • जिलों की संख्या -27

इतिहास

  • छत्तीसगढ़ राज्य का गठन मध्य प्रदेश के 16 जिलों को मिलाकर 1 नवम्बर, 2000 में किया गया। प्राचीनकाल में इस क्षेत्र को दक्षिण कौशल के नाम से जाना जाता था।
  • कलचुरियों ने 980 ई. से 1791 ई. तक छत्तीसगढ़ पर राज किया। स्वतन्त्र भारत में यह वर्ष 2000 तक मध्य प्रदेश में शामिल रहा।

विभिन्न महत्वपूर्ण तथ्य

  • छत्तीसगढ़ पश्चिम में मध्य प्रदेश तथा महाराष्ट्र, उत्तर में उत्तर प्रदेश एवं झारखण्ड से तथा दक्षिण में आन्ध्र प्रदेश से घिरा है।
  • यह जनसंख्या की दृष्टि से 17 वें स्थान पर तथा क्षेत्रफल के अनुसार भारत का नौवीं बड़ा राज्य है।
  • नदियाँ -महानदी, शिवनाथ, हसदो, माड, ईब, पैरी, जोंक, केलो, उदन्ती और सूखा इत्यादि
  • कृषि -राज्य के 80 से 85% लोगों की अर्थव्यवस्था कृषि से चलती है। यहाँ पैदा होने वाला मुख्य अनाज धान है।
  • सिंचाई परियोजना -रविशंकर सागर, महानदी परियोजना
  • वन सम्पदा -छत्तीसगढ़ में राज्य का 46% हिस्सा वनों से आच्छादित है, 36% हिस्से में साल के वन हैं ।
  • बीड़ी उद्योग का आधार तेन्दू पत्ता छत्तीसगढ़ के वनों की प्रमुख उपज है । यहाँ भारत के कुल तेन्यू पत्ते का 17% उत्पादन होता है।
  • खनिज संसाधन -यहाँ कोयला, कच्चा लोहा, चूना-पत्थर, बॉक्साइट, डोलोमाइट तथा तथा टिन के विशाल भण्डार हैं।
  • रायपुर में डाइमण्डीफेरस किम्बरलाइट्स में से काफी मात्रा में हीरा प्राप्त किया गया है ।
  • कच्चे टिन का उत्पादन करने वाला यह देश का एकमात्र राज्य है। छत्तीसगढ़ में विश्व का सबसे अधिक किम्बरलाइट भण्डार क्षेत्र है।
  • पर्यटन स्थल -चित्रकूट के जल प्रपात तथा केशकल घाटी, कांगेरघाट राष्ट्रीय उद्यान, कैलाश गुफाएं,, रतनपुर का महामाया मन्दिर, दन्तेवाड़ा का दन्तेश्वरी देवी मन्दिर इत्यादि , अचानकमार अभ्यारण्य (टाइगर रिजर्व) उदन्ति अभ्यारण्य, कोरबा जिले में पाली और कण्डई जलप्रपात पर्यटकों के प्रसिद्ध स्थल हैं ।
  • लोकगीत -भोजली, पण्डवानी, जसगीत, भरथरी लोकगाथा, बाँस गीत, सूआ, कमा, उण्डा, फाग, चनौनी, राउत गीत और पन्धी गीत इत्यादि|
  • जनजातियों -गोण्ड, बैगा, मुरिया, हल्बा, कोरबा, उराँव, भतरा, कँवर कमार, माडिया, मुडिया, भैना, भरिया, बिंझवार, धनवार, नगेशिया, मझवार, खैरवार, भुजिया, पारधी खरिया, गड़ाबा या गड़वा इत्यादि|
0Shares
Tagged:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *