[The Learning Pyramid- Knowledge Retention Rates]

learning pyramid

आप अक्सर ऐसा सोचते होंगे कि मैं ऐसा क्या करूं कि मुझे सारा पढ़ा हुआ याद रहे और मैं सब सीख जाऊं, और आप पढने में मेहनत भी बहुत करते हैं पर फिर भी याद नहीं रहता, अगर ऐसा है तो यकीनन आपको अपने पढ़ने के तरीके को बदलने की जरूरत है, इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे सभी पढ़ने के तरीकों के बारे में जो आधारित हैं  “Learning Pyramid” पर

LECTURE (5%)

  • आपको शायद पढ़ने में अजीब लगे पर “National Training Laboratories, Maine (U.S.)” द्वारा किये गए शोध में ये साबित हुआ है, कि Lecture द्वारा की गयी पढाई का हम सिर्फ 5% ही याद रख पाते हैं, तो यदि आप सिर्फ Class Lectures पर निर्भर हैं तो आपको सोचने की आवश्यकता है।

READING (10%)

  • अधिकतर विद्यार्थी सिर्फ पढ़ कर याद रखना चाहते हैं वे बार बार पढते हैं परंतु शिकायत वही “याद नहीं रहता” परन्तु जान लीजिये इस शोध में जो सामने आया है वो यह है कि हमें पढ़ा हुआ सिर्फ 10 % ही याद रहता है।

AUDIO/VISUALS (20%)

  • आपने अक्सर लोगों को कहते हुए सुना होगा जब भी उनसे कुछ पूछा जाता है, “हॉं मैंनें सुना है” या “हॉं मैंनें देखा है“, कभी आपने महसूस किया है जब आप एक्जाम हॉल में बैठे होंं और आपको कोई प्रश्न ना आ रहा हो, और अचानक से आपको अपने अध्यापक की कही हुई बात याद आती है, और आप कहते हो “हॉं मुझे याद है” बात साफ है आपको सुना हुआ और देखा हुआ ज़्यादा अच्छी तरह याद रहता है Audio सुनकर या Visuals देखकर आपको लगभग 20% तक याद रहता है। तो अब ऑडियो नोट्स सुनिये आपको अच्छा याद रहेगा ।

Audio Notes Download कीजिये – डाउनलोड करें 

DEMONSTRATION (30%)

  • Demonstration वह अध्यापन की वह प्रकिया है जिसमें पढायी जाने वाले टॉपिक को करके भी दिखाया जाता है और जो हम इस तरह सीखते हैं उसका हमें 30 % तक याद रहता है |

GROUP DISCUSSION (50%)

  • Group Discussion द्वारा की गयी पढाई से आपको 50% तक याद रहता है|वजह है आप अपने स्टडी ग्रुप में आसानी से अपने सवाल पूछ सकते हैं। ग्रुप स्टडी से पढाई या तैयारी के दौरान सपोर्ट मिलता है। अगर किसी कारणवश पढाई के प्रति आपकी प्रेरणा में कमी आ जाती है, तो ऐसी स्थिति में ग्रुप के अन्य सदस्य आपको मोटिवेट करते हैं। ग्रुप के सदस्य स्टडी सेशन के दौरान नई जानकारियों और कॉन्सेप्ट्स को सुनकर उन पर डिस्कशन भी करते हैं।

PRACTICE BY DOING (75%)

  • करत-करत अभ्यास ते, जडमति होत सुजान। रसरी आवत जात तें, सिल पर परत निसान” अर्थात जिस प्रकार बार-बार रस्सी के आने जाने से कठोर पत्थर पर भी निशान पड़ जाते हैं, उसी प्रकार बार-बार अभ्यास करने पर मूर्ख व्यक्ति भी एक दिन कुशलता प्राप्त कर लेता है ।
  • आपने कभी किसी कार मैकेनिक को देखा है जो बहुत अधिक पढा लिखा नहीं होता पर उसकी जानकारी किसी भी उसी क्षेत्र में पढाई करके आये हुए व्यक्ति से कहीं अधिक हो जाती है, वजह है अभ्यास।
  • याद रखिये प्रतियोगी परीक्षाओं में यदि सफलता प्राप्त करनी है तो सबसे महत्वपूर्ण है प्रैक्टिस क्युंकि प्रतियोगी परीक्षाओं में न सिर्फ आपका ज्ञान बल्कि आपकी गति भी मायने रखती है, और गति तो सिर्फ अभ्यास से ही प्राप्त हो सकती है।
  • आप अभ्यास द्वारा सीखे गये का लगभग 75% तक याद रख पाते हैं, अत: प्रयास करें की अधिक से अधिक अभ्यास करें।

गणित की सभी टेस्ट सीरीज देखें

TEACH OTHERS (90%)

  • आपने सुना होगा “ज्ञान ही एकमात्र ऐसा धन है जो बांटने से बढता है” आप जो भी सीखते हैं दूसरों को सिखायेंं,
  • पढाने से आप बहुत अच्छा सीखते हैं, क्युंकि पढाने से पूर्व आपको खुद पढना पडता है और दूसरे को समझाने के लिये खुद भी समझना पडता है।
  • हो सकता है कि जिसे आप पढा रहे होंं वो आपसे कुछ ऐसा सवाल भी पूछ ले जिसके बारे में तो आपने सोचा ही नहीं था, तो आप उस तरफ भी सोचते हैं और ज्यादा सीखते हैं ।
  • इस तरह आप दूसरों को पढा कर 90% तक सीख जाते हैं ।
0Shares
Tagged:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *