क्या है E-20 ईंधन?


E-20 ईंधन

  • यह वाहनों में इस्तेमाल होने वाला ईंधन है।
  • इसका सबसे बड़ा लाभ यह है कि इससे वाहनों से होने वाले जहरीली गैसो के उत्सर्जन में कमी आएगी और इससे प्रदूषण कम होगा।
  • E20 ईंधन, गैसोलीन और इथेनॉल (20%) का मिश्रण होता है।
  • यह आर्थिक रूप से भी भारत के लिए लाभदायक है।
  • इससे भारत के तेल आयात में कमी आएगी और जिससे विदेशी मुद्रा की बचत और ऊर्जा सुरक्षा सुनिश्चित होगी।
  • वर्तमान में इथेनॉल सम्मिश्रण का मान्य स्तर 10% है, यद्यपि भारत वर्ष केवल 5.6% सम्मिश्रण स्तर तक ही पहुँच पाया है।
  • इससे कार्बन डाइऑक्साइड, हाइड्रोकार्बन आदि के उत्सर्जन को कम करने में मदद मिलेगी।
  • यह एक हरित ईंधन का उदाहरण है।

इथेनॉल

  • इथेनॉल एक तरह का अल्कोहल है जिसे पेट्रोल में मिलाकर गाड़ियों में फ्यूल की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है. 
  • यह बायो-फ्यूल और बायोमास का एक बाई-प्रोडक्ट है, इसे मक्की, गन्ना और आलू इत्यादि से प्राप्त किया जा सकता है।  
  • इथेनॉल कार्बन मोनोऑक्साइड उत्सर्जन और सल्फर डाइऑक्साइड को भी कम करता है.
  • एथेनॉल हाइड्रोकार्बन के उत्सर्जन को भी कम करता है
  • एथेनॉल में 35 फीसदी ऑक्सीजन होता है
  • एथेनॉल फ्यूल को इस्तेमाल करने से नाइट्रोजन ऑक्साइड उत्सर्जन में कमी आती है.
  • इथेनॉल को अलग-अलग प्रकार के मिश्रण उत्पाद बनाने के लिये गैसोलीन के साथ मिश्रित किया जाता है।
  • इथेनॉल एक अस्थिर, ज्वलनशील और एक रंगहीन तरल पदार्थ है।
  • इथेनॉल का उपयोग मादक पेय के एक सक्रिय घटक के रूप में भी किया जाता है।
  • इथेनॉल का उपयोग एंटीसेप्टिक और कीटाणुनाशक के रूप में भी किया जाता है।

गैसोलीन

  • गैसोलीन एक तरल ईंधन है जिसका उपयोग हम मुख्य रूप से स्पार्क-प्रज्वलित आंतरिक दहन इंजन में करते हैं।
  • इसे आम भाषा में पेट्रोल भी कहा जाता है, यह एक स्पष्ट पेट्रोलियम-व्युत्पन्न ज्वलनशील तरल है। 
  • गैसोलीन एक हल्का हाइड्रोकार्बन मिश्रण है जो प्रति अणु में C4 से C12 परमाणुओं तक होता है।
  • इसका उपयोग आमतौर पर ईंधन के रूप में किया जाता है।

NOTE-सरकार ने 2022 तक पेट्रोल के साथ 10 प्रतिशत इथेनॉल मिलाने का और 2030 तक 20 प्रतिशत सम्मिश्रण का लक्ष्य निर्धारित किया है

Total
0
Shares
Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts
Read More

क्या होता है क्रायोजेनिक्स ? What is Cryogenics in Hindi

क्रायोजेनिक्स (निम्नतापिकी, तुषारजनिकी या प्राशीतनी)भौतिकी की वह शाखा है, जिसमें अत्यधिक निम्न ताप उत्पन्न करने व उसके प्रयोगों का अध्ययन किया जाता है, क्रायोजेनिक…
हमारा Android App (GuideBook-The Most Powerful Preparation App) डाउनलोड कीजिये !
Download