Press ESC to close

Or check our Popular Categories...

Agriculture

39   Articles
39
6 Min Read
13

खाद्य मुद्रास्फीति एक आर्थिक शब्द है जिसका उपयोग समय के साथ भोजन की कीमत में सामान्य वृद्धि का वर्णन करने के लिए किया जाता है। यह जीवन यापन की लागत में एक महत्वपूर्ण कारक है, क्योंकि भोजन जीवन के लिए…

Continue Reading
3 Min Read
7

राइस फोर्टिफिकेशन मिलिंग प्रक्रिया के दौरान चावल में विटामिन और खनिज जैसे सूक्ष्म पोषक तत्व मिलाने की प्रक्रिया है। दुनिया की आबादी के एक बड़े हिस्से के लिए चावल एक मुख्य भोजन है, और बहुत से लोग इस पर पोषण…

Continue Reading
3 Min Read
6

न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) वह दर है जिस पर सरकार किसानों से फसल खरीदती है और यह किसानों की उत्पादन लागत के कम-से-कम डेढ़ गुना अधिक होती है। ‘न्यूनतम समर्थन मूल्य’ किसी भी फसल के लिये…

Continue Reading
1 Min Read
8

हाइड्रोपोनिक्स विधि हाइड्रोपोनिक्स कृषि की एक ऐसी आधुनिक तकनीक है जिसमें मृदा का उपयोग किये बिना जल और पोषक तत्त्वों की सहायता से खेती की जाती है। यह विधि साग और जड़ी बूटियों की खेती करने के लिये उपयुक्त होती…

Continue Reading
2 Min Read
14

कृषि मुख्यालय केन्द्रीय चावल अनुसंधान केन्द्र- कटक केन्द्रीय कपास अनुसंधान केन्द्र- नागपुर राष्ट्रीय गन्ना प्रजनन संस्थान –कोयम्बटूर भारतीय गन्ना अनुसंधान केन्द्र –लखनऊ केन्द्रीय आलू अनुसंधान संस्थान –शिमला राष्ट्रीय चाय अनुसंधान केन्द्र –जोरहट राष्ट्रीय कॉफी अनुसंधान केन्द्र –चिकमंलूर राष्ट्रीय रबर अनुसंधान…

Continue Reading
3 Min Read
10

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण का गठन केंद्र सरकार के द्वारा खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम, 2006 के तहत किया गया था। इसका संचालन भारत सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के…

Continue Reading
4 Min Read
4

गन्ना गन्ने की फसल के लिए तापमान उष्ण और आर्द्र जलवायु के साथ 21-27 डिग्री सेल्सियस के बीच होना चाहिए । गन्ने की फसल के लिए वर्षा लगभग 75-100 सेमी.होना चाहिए । गन्ने की फसल के लिए  गहरी समृद्ध दोमट…

Continue Reading
4 Min Read
11

वनोन्मूलन (DEFORESTATION) वनोन्मूलन एक व्यापक अर्थ वाला शब्द है जिनके अन्तर्गत पेड़ों की कटाई, जिसमें बार बार की जाने वाली काट-छांट, पेड़ों का गिरना, जंगल के कूड़े-कर्कट की सफाई, मवेशियों का चरना, जंगल में घूमना और नये पौधों के साथ…

Continue Reading
2 Min Read
5

भूजैवरासायनिक चक्र पारितंत्र में ऊर्जा प्रवाह रैखिक होता है परन्तु पोषकों का प्रवाह चक्रीय होता है। इसका कारण यह है कि ऊर्जा का प्रवाह अधोगामी होता है अर्थात जैसे जैसे ऊर्जा का प्रवाह आगे की तरफ होता है वह या…

Continue Reading
4 Min Read
6

औषधीय पादप प्राचीन समय से भारत अपने मसालों तथा जड़ी-बूटियों के लिए विख्यात रहा है। आयुर्वेद में लगभग 2,000 पादपों का वर्णन है और कम से कम 500 तो निरंतर प्रयोग में आते रहे हैं। ‘विश्व संरक्षण संघ’ ने लाल…

Continue Reading
4 Min Read
154

तांबे का क्या उपयोग है? यह भारत में कहां कहां पाया जाता है? भारत में ताँबे की मांग की पूर्ति कहाँ से की जाती हैं? तांबे का उपयोग:- भारत में तांबे का उपयोग प्राचीन काल से किया जा रहा है। लोहे…

Continue Reading
7 Min Read
307

प्रागैतिहासिक काल से ही मानव शैवालों का विभिन्न रूपों में प्रयोग करता रहा है। मानव के बौद्धिक विकास एवं असीमित एवं अनंत आवश्यकताओं के कारण शैवालों के महत्त्व में भी वृद्धि हुई। शैवालों के लाभप्रद उपयोग:-शोधों के आधार पर यह…

Continue Reading
11 Min Read
49

जापान की कृषि की प्रमुख विशेषताएं एवं जापान की प्रमुख कृषि फसलों का वर्णन:- जापान की कृषि की प्रमुख विशेषताएं:-  धरातलीय विषमता के कारण जापान की करीब 15% भूमि कृषि योग्य है। इसकी दो-तिहाई भूमि पर्वतों एवं जंगलों के अंतर्गत…

Continue Reading
9 Min Read
83

भारत में कृषि श्रमिकों की समस्या के निदान हेतु भारत सरकार द्वारा किए गए प्रयास कृषि श्रमिक:- वह व्यकित जो किसी व्यक्ति की भूमि पर केवल एक श्रमिक (मजदूर) के रूप में कार्य करता है। तथा अपने श्रम (काम) के…

Continue Reading
2 Min Read
109

खाद (Manure) जल के अतिरिक्त वह सब पदार्थ जो भूमि में मिलाए जाने पर उसकी उर्वरकता में सुधार करते हैं, खाद कहलाते हैं | खादों का वर्गीकरण (Classification of Manures) जैविक (कार्बनिक जीवांश या पूर्ण खाद) भारी कार्बनिक खाद(Bulky organics) –…

Continue Reading
2 Min Read
168

मशरूम खेती (Mushroom farming) मशरूम एक कवक है जो स्वादिष्ट एवं पौष्टिक सब्जी के रूप में प्रयुक्त होता है, इसमें कार्बोहाइड्रेट एवं चर्बी की मात्रा कम तथा प्रोटीन की प्रचुर मात्रा पाई जाती है | इसको बिना मृदा के धान के…

Continue Reading