Press ESC to close

Or check our Popular Categories...

Medieval History

51   Articles
51
3 Min Read
15

कौन-सा इस्लामिक विवरण ऐतिहासिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है? अबुरिहान मुहम्मद बिन अलबरूनी के ‘तहकीक-ए-हिन्द’ नामक ग्रन्थ में विवरण।  मध्यकालीन भारतीय इतिहास की जानकारी के कौन-से चार प्रमुख स्त्रोत हैं?- ऐतिहासिक अभिलेख, साहित्य, विवेशी विवरण, मुद्रा  मध्यकालीन भारत को कितने खण्डों…

Continue Reading
1 Min Read
30

(Cornwallis Code) 1793 ई० में लॉर्ड कार्नवालिस ने अपने न्यायिक सुधारों को इस नाम से प्रस्तुत किया। यह संहिता शक्तियों के पृथक्करण (Separation of Powers) के प्रसिद्ध सिद्धांत पर आधारित है। उस समय तक जिले में कलक्टरों के पास भू-राजस्व,…

Continue Reading
6 Min Read
26

सिख शब्द का अर्थ होता है ‘शिक्षा प्राप्त करने वाला’ अथवा ‘शिष्य’। सिख धर्म की स्थापना गुरु नानक ने की। 1496 ई० की कार्तिक पूर्णीमा को नानक को आध्यात्मिक ज्ञान की प्राप्ति हुई। गुरु नानक सिखों के पहले गुरु हुए।…

Continue Reading
15 Min Read
111

मराठों का उत्थान 17 वीं शताब्दी में मराठों का उत्थान हुआ वास्तव में दक्षिण भारत में चलने वाले सामाजिक धार्मिक जागरण का परिणाम था इस क्षेत्र ने अपनी भौगोलिक क्षेत्रता का लाभ मराठों को प्रदान किया इसके फलस्वरुप कुशल नेतृत्व…

Continue Reading
9 Min Read
53

शेरशाह सूरी का परिचय सूर वंश की स्थापना शेरशाह सूरी ने की इसका बचपन का नाम फरीन था और इसके पिता का नाम हसन था, जौनपुर के खाने आजम जो कि वहाँ के शासक थे जिनका नाम था जमाई खाँ…

Continue Reading
22 Min Read
130

मुगल शासन-प्रणाली में केंद्रीयकृत नौकरशाही की प्रमुखता थी। मुगल प्रशासन में सम्राट सभी विभागों का प्रधान होता था। उसे उदार निरंकुश कहा जा सकता है।  प्रशासन में बादशाह की मदद के लिए एक मंत्रिपरिषद होती थी, परंतु वह उसकी सलाह…

Continue Reading
26 Min Read
57

औरंगजेब की मृत्यु  औरंगजेब की मृत्यु के बाद मुगल साम्राज्य का पतन प्रारम्भ हो गया था औरंगजेब ने किसी को भी अपना उत्तराधिकारी घोषित नहीं किया था औरंगजेब की मृत्यु के पश्चात उसके तीनों पुत्र मुअज्जम, आजम, कामबख्श में युध्द…

Continue Reading
15 Min Read
70

मुहीउद्दीन मोहम्मद औरंगजेब का जन्म 24 अक्टूबर 1618 ई. को उज्जैन के पास दोहद नामक स्थान पर हुआ था | 1633 ई. में सुधाकर नामक हाथी को घायल करने के कारण शाहजहां ने उसे बहादुर की उपाधि दी | 1636…

Continue Reading
19 Min Read
36

शाहजहाँ का जन्म 5 जनवरी 1592 को लाहौर में हुआ था, इसके बचपन का नाम खुर्रम था ,शाहजहाँ का खुर्रम नाम अकबर ने रखा था खुर्रम का अर्थ होता है आनंददायक , शाहजहाँ की माता का नाम जोधाबाई था जो…

Continue Reading
17 Min Read
35

जहाँगीर का जीवन परिचय नूरुद्दीन मोहम्मद जहांगीर का जन्म 30 अगस्त 1559 ई. को हुआ थाजहांगीर के बचपन का नाम सलीम था जहाँगीर की माता मरियम-उज-जमानी थी सलीम को सर्वप्रथम बैरम खां के पुत्र अब्दुर्रहीम खानेखाना के संरक्षण में रखा…

Continue Reading
21 Min Read
77

अकबर का परिचय अकबर का जन्म 15 अक्टूबर 1542 ई. में हुमायुँ के प्रवास के दौरान अमर कोट में राणा वीरसाल के महल में हुआ था अकबर की माँ का नाम हमीदा बानो बेगम था अकबर के बचपन का नाम…

Continue Reading
9 Min Read
79

 कौन था हुमायुँ नासुरुद्दीन मुहम्मद हुमायुँ बाबर का सबसे बडा पुत्र था,  बाबर की मृत्यु के तीन दिन पश्चात हुमायुँ का राज्याभिषेक 30 दिसम्बर 1530 आगरा के किले में समपन्न हुआ हुमायुँ का जन्म हुमायुँ का जन्म 6 मार्च 1508…

Continue Reading
12 Min Read
448

बाबर का संक्षिप्त परिचय मुगल वंश के संस्थापक बाबर का शासन काल 1526 ई. से 1530 ई. तक चला बाबर का पूरा नाम जहीरूद्दीन मोहम्मद बाबर था ! बाबर का जन्म 14 फरवरी 1483 को फरगना मे हुआ था बाबर…

Continue Reading
5 Min Read
27

सूफियों ने ईश्‍वर को सर्वोच्‍च सुंदर माना है और ऐसा माना जाता है कि सभी को इसकी प्रशंसा करनी चाहिए, उसकी याद में खुशी महसूस करनी चाहिए और केवल उसी पर ध्‍यान केन्द्रित करना चाहिए। उन्‍होंने विश्‍वास किया कि ईश्‍वर…

Continue Reading
13 Min Read
44

भक्ति आंदोलन (Bhakti Movment) भक्ति आंदोलन का विकास वास्तविक रूप से 7वीं तथा 12वीं शताब्दी में हुआ।  शंकराचार्य ने एक नया धार्मिक आंदोलन चलाया जिसका धार्मिक अंश वेदांत तथा साधन का अंश स्मार्त कहलाता है। शंकराचार्य ने अद्वैतवाद का उपदेश…

Continue Reading
4 Min Read
39

स्थापना 1347 ई० में हसन गंगू उर्फ अलाउद्दीन बहमनशाह ने बहमनी साम्राज्य की स्थापना की। बहमनी राज्य में आधुनिक महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश एवं उड़ीसा के क्षेत्र आते थे। इनमें देवगिरि (दौलताबाद) का किला प्रमुख था।  बहमनशाह ने गुलबर्गा में अपनी…

Continue Reading