Press ESC to close

Or check our Popular Categories...

Geography

85   Articles
85
8 Min Read
56

नक्शानवीसी (Cartography) नक्शा बनाने का विज्ञान है और सदियों से आसपास रहा है। यह एक जटिल प्रक्रिया है जिसमें दुनिया के सटीक प्रतिनिधित्व बनाने के लिए विभिन्न उपकरणों और तकनीकों का उपयोग शामिल है। पहले नक्शे प्राचीन सभ्यताओं द्वारा बनाए…

Continue Reading
2 Min Read
52

त्रिपुरा भारत का एकमात्र राज्य है जो तीन ओर से बांग्लादेश से घिरा है। त्रिपुरा व बांग्लादेश सीमा 856 किमी. लम्बी है, तथा त्रिपुरा की राजधानी अगरतला भारत की एकमात्र प्रांतीय राजधानी है जो अंतर्राष्ट्रीय सीमा से मात्र 50 मीटर…

Continue Reading
8 Min Read
3

क्या होता है रामसर क्षेत्र? नमी या दलदली भूमि वाला क्षेत्र, जो वर्षभर आंशिक रूप से या पूर्णरूप से जल से भरा रहता है, आर्द्रभूमि कहलाता है. भारत की पाँच और आर्द्रभूमियों (Wetlands) को रामसर स्थल (Ramsar Sites) के रूप…

Continue Reading
2 Min Read
13

कोसी नदी प्रणाली कोसी एक सीमा-पार नदी है जो तिब्बत, नेपाल और भारत से होकर प्रवाहित होती है।  इसका स्रोत तिब्बत में है जिसमें दुनिया की सबसे ऊँचाई पर स्थित भू-भाग शामिल है। नेपाल के एक बड़े भाग से प्रवाहित…

Continue Reading
3 Min Read
2

मुख्यालय क्षेत्र/मंडल 1.उत्तर रेलवे स्थापना – 14 अप्रैल, 1952- मुख्यालय-दिल्ली मंडल-अंबाला, फिरोजपुर, लखनऊ, मुरादाबाद 2.पूर्वोत्तर रेलवे स्थापना –1952 मुख्यालय-गोरखपुर मंडल-इज्जत नगर, लखनऊ, वाराणसी 3.पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे स्थापना –1958 मुख्यालय-गुवाहाटी मंडल-अलीपुर द्वार, कटिहार, लामडिंग, रंगिया, तिनसुकिया 4.पूर्व रेलवे स्थापना –अप्रैल, 1952…

Continue Reading
5 Min Read
2

परिचय प्राकृतिक रबर आइसोप्रीन का बहुलक है, जो एक कार्बनिक यौगिक होता है।  रबर एक सुसंगत लोचदार ठोस पदार्थ होता है।  रबर उष्णकटिबंधीय क्षेत्रो में पाए जाने वाले पेड़ों से निकलने वाले दूध, जिसे लेटेक्स कहते हैं, से प्राप्त होता है । ,…

Continue Reading
5 Min Read
30

सुंदरबन सुंदरबन पश्चिम बंगाल के उत्तर और दक्षिण 24 परगना ज़िले के 19 विकासखण्डों में फैला हुआ है।  यह भारत और बांग्लादेश दोनों में फैला हुआ दलदलीय वन क्षेत्र है। सुंदरबन का दूसरा नाम वर्षा वन है। यह यहाँ पाए जाने वाले…

Continue Reading
3 Min Read
6

भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले में अवस्थित है। भितरकनिका ब्राह्मणी, बैतरणी, धामरा और महानदी नदी प्रणालियों के मुहाने में स्थित एक समृद्ध व जीवंत इको-प्रणाली है। इसमें भारत का दूसरा सबसे बड़ा मैंग्रोव वन है और…

Continue Reading
7 Min Read
8

प्रवाल भित्ति या कोरल रीफ कोरल रीफ़ को प्रवाल भित्तियाँ या मूंगे की चट्टान के नाम से भी जाना जाता है। ये समुद्र के भीतर स्थित चट्टान हैं जो प्रवालों द्वारा छोड़े गए कैल्सियम कार्बोनेट से निर्मित होती हैं। कोरल…

Continue Reading
1 Min Read
9

1. बनिहाल दर्रा कश्मीर घाटी को बाह्य हिमालय और दक्षिण में मैदानी इलाकों के साथ जोड़ता है। 2. बारा-लाचा-ला दर्रा हिमाचल प्रदेश के लाहौल को लेह ज़िले से जोड़ता है। 3. फोटू-ला दर्रा लेह को कारगिल से जोड़ता है। 4….

Continue Reading
3 Min Read
16

पुलिकट झील पुलिकट झील भारत के पूर्वी तट पर स्थित एक अद्वितीय जलाशय है। यह दो राज्यों आंध्र प्रदेश (84%) और तमिलनाडु(16%) में विस्तृत है। इसका निर्माण समुद्र से बालू के अलग होने से हुआ है। मानसून के दौरान इसका…

Continue Reading
2 Min Read
2

हिमालय हिमालय दुनिया की सबसे ऊँची और सबसे छोटी मोड़दार पर्वत शृंखलाएँ हैं। उनकी भू-वैज्ञानिक संरचना नई, कमज़ोर और लचीली हैं क्योंकि हिमालय का उत्थान एक सतत् प्रक्रिया है, जो इसे दुनिया के सबसे अधिक भूकंप संभावित क्षेत्रों में से…

Continue Reading
1 Min Read
8

काला सागर काला सागर पूर्वी यूरोप और पश्चिमी एशिया के बीच स्थित है। यह दक्षिण, पूर्व और उत्तर में क्रमशः पोंटिक, काकेशस और क्रीमियन की पहाड़ियों से घिरा हुआ है। काला सागर भी कर्च जलडमरूमध्य द्वारा आज़ोव सागर से जुड़ा हुआ…

Continue Reading
2 Min Read
16

मौसम किसी स्थान के तापमान, वायुदाब, पवन, आर्द्रता, वर्षण, धूप, मेघाच्छादन आदि के संदर्भ में थोड़े समय की वायुमंडलीय दशा को उस स्थान का मौसम कहते हैं।  ऋतु वर्ष की वह अवधि जिसमें मौसम दशायें लगभग समान होती हैं और…

Continue Reading
6 Min Read
38

वर्षण  वर्षण या अवक्षेपण एक मौसम विज्ञान की प्रचलित शब्दावली है जब जल द्रव या ठोस के रूप में धरातल पर गिरता है तो उसे वर्षण कहते हैं। स्वतंत्र हवा में लगातार संघनन की प्रक्रिया संघनित कणों के आकार को बड़ा करने में मदद…

Continue Reading
5 Min Read
42

संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन फ्रेमवर्क सम्मेलन (UNFCCC) UNFCCC का का अर्थ ‘जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क’ से है। यह एक अंतर्राष्ट्रीय समझौता है जिसका उद्देश्य वायुमंडल में ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन को नियंत्रित करना है। UNFCCC सचिवालय संयुक्त राष्ट्र…

Continue Reading