भारत को उपमहाद्वीप क्यों कहा जाता है ?

भारत को उपमहाद्वीप क्योंं कहते हैं ये जानने से पहले आप ये भी जान लेंं कि द्वीप किसे कहते हैं, महाद्वीप किसे कहते हैं तथा प्रायद्वीप किसे कहतें हैं, चलिये आपको बताते हैं –

१. द्वीपः- स्थलखण्ड के ऐसे भाग को कहते हैं, जिनके चारों ओर जल का विस्तार पाया जाता हैं। आकार में द्वीप छोटे भी हो सकते हैं तथा बड़े भी। इनका आकार कुछ वर्ग मीटर से लेकर ह्ज़ारों वर्ग किलोमीटर तक पाया जाता हैं।

२. महाद्वीपः- समुद्र द्वारा आपस में कटे हुए बडे बडे भूभागों को महाद्वीप कहा जाता है । या सामान्य शब्दों मे कहें तो एक बडा द्वीप ।

३. प्रायद्वीपः- ऐसे स्थलखण्ड जिनके तीन ओर जल और एक ओर स्थल हो । अर्थात तीन दिशाओं में जलीयसीमा हो और एक दिशा में स्थलीय सीमा हो ।

४. उपमहाद्वीपः- जब कोई स्थान किसी महाद्वीप का होता है, लेकिन तुलनात्मक रूप से भौगोलिक रूप से अलग और छोटा होता है, तो उसे उपमहाद्वीप कहा जाता है।

भारत को उपमहाद्वीप क्यों कहा जाता है ?

भारत के मामले में, इसे अपने भूभाग के कारण उपमहाद्वीप कहा जाता है क्योंकि यह एक बड़ा क्षेत्र नहीं है और इसका कारण अन्य देशों के बीच अलगाव है।

4 thoughts on “भारत को उपमहाद्वीप क्यों कहा जाता है ?”

  1. भारतीय उपमहाद्वीप, एशिया के दक्षिणी भाग में स्थित एक उपमहाद्वीप है। इस उपमहाद्वीप को दक्षिण एशिया भी कहा जाता है भूवैज्ञानिक दृष्टि से भारतीय उपमहाद्वीप का अधिकांश भाग भारतीय प्रस्तर (या भारतीय प्लेट) पर स्थित है, हालाँकि इस के कुछ भाग इस प्रस्तर से हटकर यूरेशियाई प्रस्तर पर भी स्थित हैं

Leave a Comment