सल्तनत काल की प्रमुख रचनाएं ( Major works of the Sultanate era)

Table of Contents

सल्तनत काल की प्रमुख रचनाएं (Major works of the Sultanate era)

साहित्यकार

रचना/रचनाएं

विशिष्ट तथ्य

हसन निजामी ताज-उल-मासिरयह कुतुबुद्दीन ऐबक ने संरक्षण दिया गौरी के भारत आक्रमणों की जानकारी इसके लेखन से प्राप्त होती है |
मिनहाजुद्दीन सिराजताबकात-ए-नासिरीये सुल्तान नसीरुद्दीन महमूद के संरक्षण में रहा और उसी को अपना ग्रंथ समर्पित किया (1260 ई.) यह मुख्य काजी था |
अमीर हसन फवाद-उल-फवादबलबन के संरक्षण में रहा | इसे भारत का सादी कहा गया | यह निजामुद्दीन औलिया का शिष्य था |
जियाउद्दीन बरनी तारीख-ए-फिरोजशाही, फतवा-ए-जहांदारी, कुव्वत-उल-तवारीख, सना-ए-मोहम्मदी, हसरतनामायह 17 वर्षों तक मोहम्मद तुगलक के संरक्षण में रहा तारीख-ए-फिरोजशाही में इसने फिरोज तुगलक को आदर्श बताया है इसमें बलवंत से लेकर फिरोज तुगलक तक वर्णन है |
बद्र-ए-चाच दीवान-ए-चाच, शाहनामामोहम्मद तुगलक के संरक्षण में रहा और उसकी प्रशंसा में कसीदे लिखे |
शम्स-ए-सिराज अफीफ तारीख-ए-फिरोजशाहीफिरोज शाह तुगलक के संरक्षण में रहा और उसके शासन की प्रशंसा की इसकी रचना वहां से प्रारंभ होती है जहां बरनी की तारीख ए फिरोजशाही समाप्त होती है |
मोहम्मद बिहामद खानी तारीख-ए-मुबारकशाही
आइनुलमुल्क मुल्तानी इंशा-ए-माहरु (मुशांन-ए-महरुह)यह अलाउद्दीन खिलजी, मोहम्मद तुगलक और फिरोज तुगलक काल में विभिन्न उच्च पदों पर रहा |
याह्य बिन अहमद सरहिन्दी तारीख-ए-मुबारकशाहीयह सैयद शासक मुबारक शाह के संरक्षण में रहा और उसी को यह रचना समर्पित की | सैयद वंश का इतिहास जानने का एकमात्र स्त्रोत है |
शेख जमालुद्दीन (जमाली कंबू )सियर-उल-आरफीन, माहरुमाहयह लोदी काल के सबसे प्रसिद्ध कवि थे और सिकंदर लोदी के दरबारी कवि थे |
अबुल फजल मोहम्मद बिन हुसैन-अल-बैहाकीतारीख-ए-मसूदीमहमूद गजनबी के दरबार इतिहास आदि का विवरण |
ख्वाजा इसामी फुतूह-उस-सलातीनमहमूद गजनबी से मोहम्मद तुगलक तक का इतिहास /यह पुस्तक बहमनी वंश के प्रथम शासक अलाउद्दीन बहमनशाह को समर्पित है |
फिरोज तुगलक फतूहात-ए-फिरोजशाही फिरोज तुगलक की आत्मकथा व अध्यादेशों का संग्रह |
अज्ञात लेखक सीरात-ए-फिरोजशाही फिरोज तुगलक के बारे में लिखा है |
अमीर खुसरो किरान-उस-सादेन

मिफ्ताह-उल-फतह

नूह-सीपेहर

आशिका-उल-अनवर

तुगलकनामा

लैला-मजनू, शीरी फरहाद, आईन-ए-सिकंदरी, हद-बहिश्त, तारीख-ए-दिल्ली

बुगरा खाँ व उसके बेटे कैकुबाद के मिलन का वर्णन |

जलालुद्दीन खिलजी के सैन्य अभियान व मलिक छज्जू के विद्रोह का दमन का वर्णन |

भारत की सामाजिक राजनीतिक स्थिति का वर्णन |

अलाउद्दीन खिलजी की गुजरात विजय, मंगोलों द्वारा स्वयं को कैदी बनाए जाने की घटना, देवल रानी खिज्र खाँ के बीच प्रेम प्रसंग |

अमीर खुसरो की अंतिम कृति जिसमें खुसरोशाह के विरुद्ध गयासुद्दीन तुगलक की विजय का वर्णन है |

इब्नबतूता किताब-उल-रेहला यात्रा वृतांत
फिरसौदीशाहनामा महमूद गजनबी के राज्य, शासन आदि से संबंधित |

 

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp