अधिकतम और समानुपातिक प्रतिनिधित्व चुनाव व्यवस्था मे अंतर

अधिकतम मत पध्दति – 


  1. पूरे देश को छोटी छोटी भौगोलिक इकाइयों में बाँट देते हैं जिसे निर्वाचन क्षेत्र या जिला कहते हैं |
  2. हर निर्वाचन क्षेत्र से केवल एक प्रतिनिधि चुना जाता है |
  3. मतदाता प्रत्याशी को वोट देता है |
  4. पार्टी को प्राप्त वोटों के अनुपात से अधिक या कम सीटें विधायिका मे मिल सकती हैं |
  5. विजयी उम्मीदवार को जरूरी नहीं कि वोटों का बहुमत मिले (50%+1) मिले, उदाहरण के लिए – यूनाइटेड किंग्डम और भारत

समानुपातिक चुनाव व्यवस्था 


  1. किसी बड़े भौगोलिक क्षेत्र को एक निर्वाचन क्षेत्र मान लिया जाता है, पूरा का पूरा देश एक निर्वाचन क्षेत्र गिना जा सकता है |
  2. एक निर्वाचन क्षेत्र से कई प्रतिनिधि चुने जा सकते हैं |
  3. मतदाता पार्टी को वोट देता है |
  4. हर पार्टी को प्राप्त मत के अनुपात मे विधायिका मे सीटें प्राप्त होती हैं |
  5. विजयी उम्मीदवार को वोटों का बहुमत प्राप्त होता है, उदाहरण के लिए – इज़राइल और नीदरलैंड

Leave a Comment