GK

जम्मू-कश्मीर | सामान्य ज्ञान | सभी महत्वपूर्ण तथ्य

3588
0

जम्मू-कश्मीर | सामान्य ज्ञान | सभी महत्वपूर्ण तथ्य

  • स्थापना -26 अक्तूबर, 1947
  • क्षेत्रफल -222136 वर्ग किमी
  • भाषाए -उर्दू, कश्मीरी, डोगरी, लद्दाखी, बाल्टी, गुजरी
  • राजधानी -श्रीनगर (ग्रीष्मकाल), जम्मू (शिशिर ऋतु)
  • जनसख्या -12548926
  • साक्षरता -68.74%
  • जनसंख्या घनत्व -124
  • जिलों की संख्या -22

इतिहास

  • कश्मीर का उल्लेख राजतरंगिणी मे मिलता है। ईसा पूर्व तीसरी शताब्दी मे सम्राट अशोक ने कश्मीर मे बौद्ध धर्म का प्रसार किया, तत्पश्चात कनिष्क ने इसकी जड़ें और गहरी की।
  • छठी शताब्दी के प्रारम्भ में कश्मीर पर हूणो ने अधिकार कर लिया। कश्मीर के हिन्दू राजाओ में ललितादित्य प्रमुख राजा हुआ।
  • कश्मीर में इस्लाम का आगमन 13 वीं और 14 वीं शताब्दी में हुआ, वही मुस्लिम शासक जैन-उल-आबिदीन हुआ जिसे कश्मीर का अकबर भी कहा जाता है।
  • 1586 ई में कश्मीर अकबर के राज्य में मिला लिया गया। 1752 ई. मे कश्मीर अफगानी शासक अहमदशाह अब्दाली के हाथों चला गया |
  • जम्मू का उल्लेख हडप्पाई अवशेषों, मौर्य, कुषाण तथा गुप्त कलाकृतियो से स्पष्ट होता है।
  • 1733 से 1782 ई. तक जम्मू राजा रणजीत सिंह के पास था। बाद में यह गुलाब सिह को सौप दिया।
  • वर्ष 1947 तक जम्पू पर डोगरा शासकों का अधिकार था। 26 अक्तूबर, 1947 को महाराजा हरि सिह ने भारतीय सघ मे विलय के समझौते पर हस्ताक्षर किए |

विभिन्न महत्वपूर्ण तथ्य

  • यह भारत के उत्तरी किनारे पर स्थित राज्य है, इसके पूर्व में तिब्बत, उत्तर में चीन, दक्षिण में हिमाचल प्रदेश व पजाब, उत्तर-पश्चिम मे अफगानिस्तान व पश्चिम मे पाकिस्तान है।कश्मीर में मुख्यतः दो पर्वत श्रेणी है -सुदूर उत्तर मे काराकोरम तथा दक्षिण में हिमालय जास्कर श्रेणी।
  • नदियाँ -सिन्धु, श्योक, गिलगित, जास्कर, चेनाब, झेलम, किशन गंगा
  • कृषि -केसर, शहद तथा बासमती जैसे दुर्लभ कृषि उत्पाद यही मिलते है।
  • बागवानी -सेब, नाशपाती, प्लम, खुबानी, आडु, बादाम, चेरी, आम, अमरूद, नीबू, लीची इत्यादि
  • श्रीनगर मे ट्यूलिप गार्डन, एशिया का सबसे बडा ट्यूलिप गार्डन है ।
  • वन -राज्य के 20230 वर्ग किमी क्षेत्र मे वन हैं । 90.68%वन क्षेत्र मे कोनीफर्स 5.32% देवदार. 9.02% चीड, 9.73% केल, 16.81% फर तथा 49.80% अन्य क्षेत्र गैर-कोनीफर्स प्रजातियों का है ।
  • उद्योग -हस्तशिल्प यहाँ का प्रमुख उद्योग है। कागज से बनी वस्तुएँ शॉल, कालीन तथा लकड़ी पर नक्काशी प्रमुख हैं ।
  • प्रमुख त्यौहार -होली, दिवाली, मिलाद-उन-नबी, इदुल-फितर, इदुल-जुहा, मुहर्रम, बैसाखी, मकर संक्रान्ति
  • लोकनृत्य -चकरी (वाद्य यन्त्रों द्वारा कहानियों को गाकर-नाचकर सुनाया जाता है ।) रउफ (लड़कियों द्वारा ईद, शादी इत्यादि पर), लउशाह (गायन का व्यंगात्मक रूप), सूफियाना कलाम (संतूर के साथ)
  • पर्यटन स्थल -पहलगाम, गुलमर्ग, जम्पू वैली, कश्मीर घाटी, लेह, जास्कर, कारगिल, पटनीटोप
  • जनजातियाँ -बाकरावल, दमारा, प्रोकपा, चेगपा, बल्टी, डोगरा, हन्डू, बगती इत्यादि।
  • संस्थान -रीजनल रिसर्च लैबोरेटरी(जम्मू), शेर-ए-कश्मीर, इंस्टीट्‌यूट ऑफ मेडिकल साइन्म, शेर-ए-कश्मीर, यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चरल साइन्स एवं टेक्नोलोजी (श्रीनगर)


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here