महाराष्ट्र | सामान्य ज्ञान | सभी महत्वपूर्ण तथ्य

4451
0

महाराष्ट्र | सामान्य ज्ञान | सभी महत्वपूर्ण तथ्य

  • स्थापना -1 मई,1960
  • क्षेत्रफल -307713 वर्ग किमी
  • लिंगानुपात -925
  • भाषा -मराठी
  • राजधानी -मुम्बई
  • साक्षरता -82.91%
  • जनसंख्या -112372972
  • जनसंख्या घनत्व -365
  • जिलों की संख्या -35

इतिहास

  • महाराष्ट्र के संस्थापक सातवाहन (230-225ई.पू.) थे। सातवाहनों के पश्चात् यहाँ वाकाटकों ने शासन किया।
  • इनके समय अजन्ताओं की गुफाओं में भित्तिचित्र बनाए गए। भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस (1885 ई.) की स्थापना यहीं (बम्बई) हुई थी।
  • गाँधी युग में राष्ट्रवादी देश की राजधानी सेवाग्राम थी। आजादी के पश्चात् भाषायी पुनर्गठन के फलस्वरूप 1 मई,1960 को महाराष्ट्र राज्य का प्रशासनिक प्रादुर्भाव हुआ। इसे आस-पास के मराठी भाषी क्षेत्रों को मिलाकर निर्मित किया गया है।

 

विभिन्न महत्वपूर्ण तथ्य

  • महाराष्ट्र प्रायद्वीपीय भारत के उत्तर में स्थित है । राज्य के उत्तर में सतपुरा की पहाड़ियाँ हैं, जबकि अजन्ता तथा सतमाला श्रेणियाँ राज्य के मध्य से गुजरती हैं। अरब सागर महाराष्ट्र के पश्चिम में स्थित है, जबकि उत्तर में गुजरात तथा मध्य प्रदेश हैं । इसके पूर्व में छत्तीसगढ़ तथा दक्षिण में कर्नाटक तथा आन्ध्र प्रदेश हैं।
  • नदियाँ -गोदावरी, भीमा, कृष्णा इत्यादि ।
  • कृषि -राज्य तिलहनों का प्रमुख उत्पादक है; जैसे-मूँगफली. सूरजमुखी, सोयाबीन इत्यादि ।
  • नकदी फसलें-कपास, गन्ना, हल्दी इत्यादि ।
  • उड्डयन -राज्य में तीन अन्तर्राष्ट्रीय तथा पाँच घरेलू हवाई अड्‌डे हैं ।
  • बंदरगाह -राज्य में दो बडे और 48 छोटे अधिसूचित बन्दरगाह हैं ।
  • त्यौहार -गुड़ी पड़वा (इस दिन ब्रह्मा ने सृष्टि की रचना की थी, नया वर्ष ), पोला (महाराष्ट्र के कृषकों द्वारा बैलो की पूजा की जाती है ), गणेश चतुर्थी (गणेश पूजा) नरेली पूर्णिमा (सावन महीने में, रक्षाबन्धन के दिन), गोकुल अष्टमी (जन्माष्टमी ), वेनगंगा (वेनगंगा नदी पर) ।
  • लोकनृत्य -लावणी (नौज की साड़ी पहनकर महिलाओं द्वारा), धनगरी गाजा (शोलापुर जिले में चरवाहों द्वारा), पोवाडा (गाथा गीत), कोली (मछुआरों का नृत्य), डिण्डी ( भगवान कृष्ण के लिए ), काला ( भगवान कृष्ण) ।
  • पर्यटन स्थल -अजन्ता, एलोरा, औरंगाबाद, एलिफेण्टा, कन्हेरी, काटला गुफाएं. महाबलेश्वर, माथेरान, पंचगनी, जवाहर, मालरोजघाट, अम्बोली, विकलधारा तथा पन्हाला पर्वतीय स्थल हैं । पण्ढरपुर, नासिक, शिरडी, नान्देड़, औधानागनाथ, त्रयम्बकेश्वर, तुलजापुर गणपति पुले, भीमाशंकर, हरिहरेश्वर, रोगोब, कोल्हापुर, जेजुरी तथा अम्बाजोगई प्रसिद्ध धार्मिक स्थान हैं ।
  • जनजाति -भील, कोया. खोण्ड, कोल. बिरहोर. गोण्ड, अगरिया, कमार, उराँव, कोर्कु, खैरवार, बैगा
  • राष्ट्रीय अभ्यारण -पेच राष्ट्रीय उद्यान, टडोबा राष्ट्रीय उद्यान, चन्दौली राष्ट्रीय उद्यान
  • संस्थान -टाटा इस्टीट्‌यूट ऑफ फण्डामेण्टल रिसर्च, केन्द्रीय मत्स्यिकी शिक्षण संस्थान, इण्डियन इंस्टीट्‌यूट ऑफ एजुकेशन (मुम्बई), विश्वेश्वरैया राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (नागपुर),
  • पुरस्कार -महाराष्ट्र भूषण (सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार), बाबा साहेब अम्बेडकर दलित मित्र पुरस्कार (साहित्य के क्षेत्र में) छत्रपति शिवाजी खेल पुरस्कार. महाराष्ट्र शिक्षक रत्न
  • परिवहन – सडकें मार्च, 2010 तक राज्य में सड़कों की कुल लम्बाई 240किमी थी, जिसमें राष्ट्रीय राजमार्गों की लम्बाई 4376 किमी, प्रान्तीय राजमार्गो की लम्बाई 34102 किमी, प्रमुख जिला सड़कों की लम्बाई 499०1 किमी, अन्य जिला सड़कों की लम्बाई 46817 किमी और ग्रामीण सड़कों की कुल लम्बाई 10844 थी।
  • रेलवे महाराष्ट्र में 5983 किमी रेलमार्ग है, जो देश में कुल मार्ग का 9.4% है।
सितम्बर माह में पढिये, शेयर कीजिए और जीतिए 10 Amazon Gift Cards !!

नॉलेज बॉक्स में जानकारी जोड़ना शुरू करें !

avatar
  Subscribe  
Notify of