भारत, इंडिया या हिन्दुस्तान ? कैसे पड़े ये नाम ?

आपके मन में अवश्य ही ये विचार आता होगा कि हमारे देश के 3 नाम क्योंं हैं और ये कैसे पड़े? वैसे संविधान में लिखा है “इंडिया जो कि भारत है वह राज्यों का संघ होगा” मतलब संविधान में हमारे देश का नाम भारत ही है, अब चलिये आपको बताते हैं कि ये तीन नाम कैसे पड़े?

भारत नाम कैसे पड़ा ?

भगवान राम के पूर्वज सम्राट भरत, चक्रवर्ती सम्राट हुए हैं। इनका साम्राज्य कश्मीर से कन्याकुमारी तक फैला हुआ था। उनके नाम पर ही देश का नाम भारतवर्ष पड़ा।

हिंदुस्तान नाम कैसे पड़ा ?

हिमालय के पश्चिम में सिंधु नदी बहती है और एक बहुत बड़ा भू-भाग इससे घिरा है। इस भू-भाग को सिंधु घाटी कहते हैं। सिंधु घाटी सभ्यता बहुत प्रसिद्ध हुई है। मध्ययुग में जब तुर्किस्तान से कुछ विदेशी लुटेरे और ईरानी लोग देश में आये तो सर्वप्रथम उन्होंने सिंधु घाटी में प्रवेश किया। यहां के निवासियों को उन्होंने हिन्दू नाम दिया, जो सिंधु का ही एक अपभ्रंश है। हिन्दुओं के देश को उन्होंने हिन्दुस्तान के नाम से जाना और प्रचलित किया।

इंडिया नाम कैसे पड़ा ?

सिंधु नदी का दूसरा नाम इंडस वैली भी कहा जाता था। सिंधु घाटी की सभ्यता रोम की सभ्यता की तरह प्रसिद्ध थी और पूरे देश में फैली हुई थी। इंडस वैली के कारण ही देश का नाम इंडिया पड़ा।

इंडिया नाम प्रचलित क्यों है ?

जब अंग्रेज देश में आये तो उन्हें हिन्दुस्तान अथवा हिन्द का उच्चारण करने में कठिनाई हुई। इसका हल उन्होंने खोजा और उन्हें पता चला कि सिंधु घाटी का नाम इंडस वैली भी है। अत: उन्होंने हमारे देश को इंडिया नाम दिया और देश पूरे विश्व में इंडिया के नाम से प्रसिद्ध हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here