कब मनाते हैं राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस?

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस

  • प्रत्येक वर्ष 24 अप्रैल को 73वें संविधान संशोधन अधिनियम के लागू होने के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस मनाया जाता है।
  • पंचायती राज दिवस मनाने की शुरुआत वर्ष 2010 में हुई थी।
  • 73वाँ संविधान संशोधन अधिनियम, 1992 के तहत पंचायती राज को संवैधानिक पहचान मिली।   
  • इस संविधान संशोधन अधिनियम द्वारा संविधान में भाग-9 जोड़ा गया था।
  • मूल संविधान में भाग-9 के अंतर्गत पंचायती राज से संबंधित उपबंधों की चर्चा (अनुच्छेद 243) की गई है।
  • भाग-9 में ‘पंचायतें’ नामक शीर्षक के तहत अनुच्छेद 243-243O तक पंचायती राज से संबंधित उपबंध हैं।  
  • 73वें संविधान संशोधन द्वारा संविधान में 11वीं अनुसूची जोड़ी गई और इसके तहत पंचायतों के अंतर्गत 29 विषयाें की सूची की व्यवस्था की गई।

पुरस्कार     

  • पंचायती राज मंत्रालय सेवाओं और सार्वजनिक वस्तुओं के वितरण में सुधार के लिये बेहतर कार्यों को मान्यता और पंचायतों को प्रोत्साहन देने के तहत निम्नलिखित तीन पुरस्कार प्रदान किये जाते हैं
  1. नाना जी देशमुख गौरव ग्राम सभा पुरस्कार 
  2. बाल सुलभ ग्राम पंचायत पुरस्कार
  3. ग्राम पंचायत विकास योजना पुरस्कार