किसे मिला भारत में एनी अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार?

एनी अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार

  • एनी अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार को एनर्जी फ्रंटियर पुरस्कार के नाम से भी जाता है।
  • इस पुरस्कार को ऊर्जा अनुसंधान क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार माना जाता है।
  • यह पुरस्कार ऊर्जा और पर्यावरण अनुसंधान के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त है।
  • इस पुरस्कार का उद्देश्य ऊर्जा स्रोतों के बेहतर उपयोग को बढ़ावा देना और शोधकर्ताओं की नई पीढ़ियों को उनके काम के लिए प्रोत्साहित करना है।
  • इस पुरस्कार में नगद राशि और एक स्वर्ण पदक प्रदान किया जाता है।
  • यह एक वार्षिक अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार है। इसे इटली की तेल और गैस कंपनी एनी (Eni) द्वारा प्रदान किया जाता है।
  • एनी पुरस्कार की वैज्ञानिक समिति में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय, एमआईटी (MIT), कैम्ब्रिज, स्टटगार्ट विश्वविद्यालय, फ्लोरिडा स्टेट यूनिवर्सिटी, पीसा विश्वविद्यालय, टेक्सास विश्वविद्यालय और अन्य महत्वपूर्ण प्रतिनिधि शामिल होते हैं।
  • एनी पुरस्कार को जुलाई 2007 में शुरू किया गया था।

मुख्य बिंदु

  • भारत रत्न प्रोफेसर सी.एन.आर. राव को अक्षय ऊर्जा स्रोतों और ऊर्जा भंडारण में अनुसंधान के लिए अंतर्राष्ट्रीय एनी पुरस्कार-2020 प्राप्त हुआ है।
  • प्रोफेसर राव हाइड्रोजन ऊर्जा पर कार्य कर रहे हैं।
  • हाइड्रोजन का भंडारण, हाइड्रोजन का फोटोकैमिकल और इलेक्ट्रोकेमिकल उत्पादन, हाइड्रोजन का सौर उत्पादन और गैर-धातु उत्प्रेरण प्रोफेसर राव के काम के मुख्य आकर्षण हैं।
  • प्रोफेसर राव ने धातु ऑक्साइड, कार्बन नैनोट्यूब, द्वि-आयामी प्रणालियों और अन्य सामग्रियों पर उल्लेखनीय कार्य किया है।