694 अनेक के लिए एक शब्द

1अति सूक्ष्म परिमाण  अणिमा
2अधः (नीचे) लिखा हुआ  अधोलिखित
3अध्ययन किया हुआ  अधीत
4अनुभव प्राप्त  अनुभवी
5अनुमान किया हुआ  अनुमानित
6अनुवाद करनेवाला  अनुवादक
7अनुवाद किया हुआ  अनूदित
8अनेक राष्ट्रों में आपस में होनेवाली बात  अन्तर्राष्ट्रीय
9अपनी ही हत्या करनेवाला  आत्मघाती
10अर्थ या धन से संबंधित  आर्थिक
11अवश्य होने वाला अवश्यम्भावी
12असम्बद्ध विषय का  अविवक्षित
13आगे होने वाला भावी
14आचार्य की पत्नी  आचार्यानी
15आज के दिन से पूर्व का काल  अनद्यतनभूत
16आठ पदवाला  अष्टपदी
17आत्मा या अपने आप पर विश्वास  आत्मविश्वास
18आदि से अन्त तक  आद्योपान्त
19आलस्य में अँभाई लेते हुए देह टूटना  अंगड़ाई
20आलोचना करनेवाला  आलोचक
21आलोचना के योग्य  आलोच्य
22आशा से कहीं बढ़कर  आशातीत
23इतना कि जो पर्याप्त हो इत्यलम्
24इन्द्र की पुरी  अमरावती
25इन्द्र को जीतने वाला इन्द्रजीत
26इन्द्रपुरी की वेश्या  अमरांगना
27इस लोक से संबंध रखने वाला इबलौकिक
28उतरती युवावस्था का  अधेर
29उत्कंठा सहित मन का वेग  आवेग
30उत्तर दिशा  उदीची
31उपनिवेश संबंधी औपनिवेशिक
32उपनिषद् संबंधी औपनिषदिक
33उपन्यास संबंधी औपन्यासिक
34ऊँचे स्वार से उच्चारण किया हुआ ऊर्ध्वोच्चारित
35ऊपर कहा गया उपर्युक्त
36ऊपर की ओर जाने वाला ऊर्ध्वगामी
37एक एक अक्षर तक अक्षरशः
38एक व्यक्ति द्वारा चलाई जाने वाली शासन प्रणाली तानाशाही
39ऐसा ग्रहण जिसमें सूर्य या चन्द्र का पूरा विश्व ढक जाए खग्रास
40ऐसे स्थान पर निवास जहाँ कोई पता न पा सके  अज्ञातवास
41कम अक्लवाला  अल्पबुद्धि
42कमल के समान चरण चरणकमल
43कर्मचारी आदि को हटाने की क्रिय़ा छँटनी
44किसी कहे हुए पघ के अन्तिम अक्षर से प्रारम्भ होने वाला अंत्याक्षऱी
45किसी के दुःख से दुखी होकर उसपर दया करना  अनुकम्पा
46किसी छोटे से प्रसन्न हो उसका उपकार करना  अनुग्रह
47किसी वस्तु का चौथा भाग चतुर्थांश
48किसी वस्तु के क्रय एकाधिकार
49किसी विशेष वस्तु की हार्दिक इच्छा  अभिलापा
50किसी श्रेष्ठ का मान या स्वागत  अभिनन्दन
51कुबेर की नगरी  अलकापुरी
52केवल फल खाकर रहने वाला फलाहारी
53क्रम के अनुसार यथाक्रम
54खाने योग्य पदार्थ खाघ
55गणित का विद्वान गणितज्ञ
56गर्भस्थ शिशु की हत्या भ्रूणहत्या
57गर्वपूर्ण व्यवहार करना इठलाना
58गायों के रहने का स्थान गोशाला या गोष्ठ
59घर के सबसे ऊपर के खंड की कोठरी  अटारी
60घर के सामने का मंच  आलिन्द
61चन्द्र है चूड़ा पर जिसके चतुष्पद
62चीन से आने वाला रेशमी कपड़ा चीनांशुक
63छोटा कथात्मक प्रबन्ध काव्य जिसमें महाकाव्य के समस्त लक्षण न हों खण्डकाव्य
64जन्म से सौ वर्ष का समय जन्मशती
65जबरन नरक में धकेलना या बेगार  आजू
66जल में रहने वाले जन्तु जलचर
67जल से परिपूर्ण  अनूप
68जहाँ किसी बात का डर न हो निरापद
69जहाँ कोई दूसरा न हो एकान्त
70जहाँ तक संभव हो यथासंभव
71जहाँ तक सध सके यथासाध्य
72जहाँ पहुँचा न जा सके  अगम्य
73जानने या ज्ञान प्राप्त करने की इच्छा जिज्ञासा
74जिस पर विश्वास न हो  अविश्वसनीय
75जिस पुस्तक में आठ अध्याय हो  अष्टाध्यायी
76जिस भूमि में कुछ उत्पन्न न हो ऊसर
77जिस वस्तु की आकांक्षा हो ईप्सित
78जिस स्त्री को उसके पति ने छोड़ दिया हो परित्यक्ता
79जिसका अन्त न हो।  अनन्त
80जिसका अपराध सिद्ध हो  अपराधी
81जिसका आदि न हो  अनादि
82जिसका उल्लंघन करना उचित न हो  अनुल्लंघनीय
83जिसका जन्म न हो  अज/अजन्मा
84जिसका जन्म पहले हुआ हो  अग्रज
85जिसका जन्म बाद/पीछे हुआ हो  अनुज
86जिसका ज्ञान इन्द्रियों के द्वारा न हो  अतिन्द्रिय
87जिसका नाथ (सहारा) न हो  अनाथ/यतीम
88जिसका पार न हो  अपार
89जिसका मूल्य न हो।  अमूल्य
90जिसका रोकना या निवारण करना कठिन हो दुर्निवार्य
91जिसका वर्णन न हो सके अवर्णनीय़
92जिसका वित्त स्थिर हो एकाग्रचित्त
93जिसका शत्रु पैदा नहीं लिया  अजातशत्रु
94जिसका संबंध किसी एक स्थान से हो एकदेशीय
95जिसका होना या करना कठिन हो दुष्कर
96जिसकी आकृति का कोई और न मिले  अप्रतिरूप
97जिसकी आशा न की गई हो  अप्रत्याशित
98जिसकी इन्द्रियाँ वश में हो जितेन्द्रिय
99जिसकी उपमा न हो  अनुपम
100जिसकी घोषणा की गयी हो घोषित
101जिसकी चिकित्सा न हो सके  अचिकित्स्य
102जिसकी तुलना न हो  अतुलनीय
103जिसकी संख्या सीमित न हो  असंख्य
104जिसके आने की तिथि ज्ञात न हो  अतिथि
105जिसके एक ही आँख हो एकाक्ष
106जिसके जल का प्रवाह गुप्त हो  अन्तस्सलिल
107जिसके पार न देखा जा सके  अपारदर्शी
108जिसके पास कुछ भी नहीं हो  अकिंचन
109जिसके बिना काम न चल सकें अनिवार्य
110जिसके मन मे पाप न हो निष्पाप
111जिसके विषय में विवाद न हो निर्विवाद
112जिसके समान अन्य न हो  अनन्य
113जिसके समान दूसरा न हो  अद्वितीय
114जिसको जीतना कठिन हो दुर्जेय
115जिसने अभी विवाह न किया हो कुँआरा
116जिसने बहुत कुछ देखा हो बहुदर्शी
117जिसने मृत्यु पर विजय पायी हो मृत्युंजय
118जिसने यश प्राप्त किया है यशस्वी
119जिसपर मुकदमा हो।  अभियुक्त
120जिसमें गती अधिक हो वह नाटक गीतिरूपक
121जिसे ईश्वर या वेद में विश्वास न हो  नास्तिक
122जिसे ईश्वर या वेद में विश्वास हो  आस्तिक
123जिसे काटा न जा सके  अकाट्य
124जिसे जीता न जा सके  अजेय
125जिसे देख या सुनकर घृणा उत्पन्न हो धृणित
126जिसे भय न हो  निर्भय/अभय
127जिसे मापा न जा सके  अपरिमेय
128जिसे सबसे पहले गिनना उचित हो  अग्रगण्य
129जिसे समाज अथवा देश जाति से निकाल दिया गया हो बहिष्कृत
130जीने की इच्छा जिजीविषा
131जे कम जानता हो मन्दबुद्धि
132जैसा पहले था यथापू्र्व
133जो अपनी इच्छा पर निर्भर हो ऐच्छिक
134जो अपने काम से जी चुराता हो कामचोर
135जो अर्थशास्त्र का विद्वान् हो  अर्थशास्त्री
136जो अल्प बोलनेवाला है  अल्पभाषी
137जो आकाश में चलता हो खेचर
138जो आदर करने योग्य हो आदरणयीय
139जो आयुर्वेद से संबंध रखे  आयुर्वेदिक
140जो इन्द्रियों की पहुँच बाहर हो या इन्द्रियों से परे हो इन्द्रियातीत
141जो उचित समय पर न हो  असामयिक
142जो ऊँचा न हो  अतुंग
143जो ऋण ले  अधमर्ण
144जो कठिनाता से जाना जाये दुर्ज्ञेय
145जो कभी मरे नहीं  अमर
146जो कम जानता हो अल्पज्ञ
147जो कर्तव्य से च्युक्त हो गया हो कर्त्तव्यच्युत
148जो कल्पना से परे हो कल्पनातीत
149जो कार्य किसी दूसरे प्रधान कार्य के समय थोड़े प्रयास से ही हो जाए आनुषंगिक
150जो किए जाने योग्य हो करणीय
151जो केवल कहने सुनने के लिए हो औपचारिक
152जो कोई वस्तु माँगता है याचक
153जो क्षमा न किया जा सके  अक्षम्य
154जो क्षय न हो सके  अक्षय
155जो छिपाने के योग्य हो गोपनीय
156जो जन्म से ही अंधा है जन्मांध
157जो जाँच या परीक्षा बहुत कठिन हो  अग्नि परीक्षा
158जो जातियों के बीच में हो  अन्तर्जातीय
159जो दिखाई न दे  अदृश्य
160जो दिन में एक बार भोजन करता हैं एकभुत्त
161जो दूर की न देखे/सोचे  अदूरदर्शी
162जो दूसरों का बुरा करे  अपकारी
163जो दूसरों की उन्नति देख कर जलता हैं ईर्ष्यालु
164जो देखा न गया हो परोक्ष
165जो न जानता हो  अज्ञ
166जो न मरे अमर्त्य या अमर
167जो नई चीज निकाले या खोज करे  आविष्कार
168जो नहीं हो सकता  असंभव
169जो पढ़ा लिखा न हो अनपढ़
170जो परीक्षा में पास न हो  अनुत्तीर्ण
171जो परीक्षा में पास हो  उत्तीर्ण
172जो पहाड़ को धारण करता हो गिरिधर
173जो पासे के खेल में धूर्त हो  अक्षधूर्त
174जो पुरुष अभिनय करे  अभिनेता
175जो प्रमाण से सिद्ध न हो  अप्रमेय
176जो फूल अभी नहीं खिला है जूस
177जो बुद्धि द्वारा जाना जा सके बोघगम्य
178जो बूढ़ा (पुराना) न हो  अजर
179जो भारत में रहता हो भारतवासी
180जो भेदा या तोड़ा न जा सके  अभेद्य
181जो मनुष्य के लिए उचित न हो  अमानुषिक
182जो मृत्यु के समीप हो मरणासत्र
183जो युद्ध में स्थिर रहता हैं युधिष्ठिर
184जो लौकिक या सांसारिक प्रतीत न हो।  अलौकिक
185जो व्याकरण द्वारा सिद्ध न हो  अपभ्रंश
186जो शंका करने योग्य न हो निःशंक
187जो शीघ्र न पचे गरिष्ठ
188जो सँवारा या साफ न किया गया हो  अपरिमार्जित
189जो साध्य न हो  असाध्य
190जो सोचा भी न गया हो  अतर्कित
191जो स्त्री अभिनय करे  अभिनेत्री
192जो स्त्री सूर्य भी न देख सके  असूर्यम्पश्या
193जो स्पष्ट दिखायी ने दे घूमिल
194जो होने से पूर्व किसी बात का अनुमान करे  अनागतविधाता
195झूठा मुकदमा  अभ्याख्यान
196टूटे फुटे पदार्थ के बचे टुकड़े भग्नावशेष
197ठहाका लगाकर हँसना  अट्टहास
198तट का जो भाग जल के भीतर हो  अन्तरीप
199तत्व को जानने वाला तत्वज्ञ
200तरने तैर या पार होने की इच्छा रखने वाला तितीर्षु
201तरने तौर या पार होने की इच्छा तितीर्षा
202तर्क के आधार पर जो ठीक हो तर्कसंगत
203तुलना द्वारा प्राप्त  आपेक्षिक
204त्याग करने योग्य त्याज्य
205दक्षिण दिशा  अवाची
206दर्पण जड़ी अंगूठी, जिसे स्त्रियाँ अँगूठे में पहनती हैं  आरसी
207दागकर छोड़ा गया साँड़  अंकिल
208दीवार पर बने चित्र भिन्तिचित्र
209दूध पिलानेवाली धाय  अन्ना
210दूसरे के अन्दर की गहराई ताड़नेवाला  अन्तर्दर्शी
211दूसरे के गुणों में दोष निकालना  असूया
212दूसरे के मन की बात जाननेवाला  अन्तर्यामी
213दूसरों की उन्नति को न देख सकने का भाव ईर्ष्या
214देवता अथवा भूतादि द्वारा होने वाला दुख आघिभौतिक
215देह का दाहिना भाग  अपसव्य
216दो बार जन्म लेने वाला द्विज
217दो या तीन बार कहना  आमेडित
218दोपहर के बाद का समय  अपराह्न
219धर्म में आस्था रखने वाला धार्मिक
220धारण करने वाला धारक
221धारण करने वाली धारायित्री
222धूप से बचने का छाता  आतपत्र
223ध्यान या विचार करने वाला ध्याता
224न कहने योग्य वचन  अवाच्य
225न खाने योग्य  अखाद्य
226न टूटने वाला  अटूट
227नकल करने योग्य  अनुकरणीय
228नगर मे रहने वाला नागरिक
229नाटक में बड़ी बहन  अत्तिका
230निंदा न किया हुआ  अगर्हित
231परपुरूष से प्रेम करने वाली नायिका परकीया
232परलोक संबंधी पारलौकिक
233पर्वत के ऊपर की समभूमि  अधित्यका
234पश्चिम दिशा  प्रतीची
235पहनने के योग्य परोक्ष
236पानी भरनेवाला  अम्बुवाह
237पिता से प्राप्त की गई संपत्ति पैतृक
238पीने योग्य पेय
239पीसे हुए चावल की मिठाई  अँदरसा
240पूरब और उत्तर के बीच की दिश ईशानकोण
241पूरब दिशा  प्राची
242पेट की अग्नि जठराग्नि
243प्रसूता को दिया जानेवाला भोजन  अछवानी
244प्रारम्भ से लेकर अन्त तक आघोपान्त
245प्रेम उत्पन्न करनेवाला  अनुरंजक
246फल की आकांक्षा से युक्त फलासक्त
247बंधक रखा हुआ  आधीकृत
248बड़े दाम वाला बहुमूल्य
249बढ़ा चढ़ाकर कहना अतिशयोक्ति
250बनावटी वेश घारण करने वाला छद्न्वेषी
251बरसात के चार महीने चौमासा
252बहुत अधिक जानकारी रखने वाला बहुज्ञ
253बहुत समय तक जीने वाला चिरंजीवी
254बहुत सी भाषाएँ जानने वाला बहुभाषाविद
255बहुत से देवताओ की उपासना किये जाने का सिद्धान्त बहुदेववाद
256बहुत से लोगों की मिलकर एक राय बहुमत
257बालक से लेकर वृद्ध तक  आबालवृद्ध
258बालक से वृद्ध तक आबालवृद्ध
259बाहर आया या निकला हुआ बहिर्गत                      
260बिना चिन्ता किया हुआ  अचिन्तित
261बिना पलक गिराये अनिमेष
262बिना प्रयास के  अनायास
263बिना विचार किए विश्वास करना  अंधविश्वास
264बिना वेतन के  अवैतनिक
265बेटी का पति जामाता
266भय से घबराया हुआ भयाकुल
267भारत और यूरोप से संबंधित भारोपीय
268भारतवर्ष का उत्तरी भाग  आर्यावर्त
269भूगोल संबंधी भौगोलिक
270मंत्र द्वारा देवता को बुलाना आवाहन
271मर्यादा का उल्लंघन करके किया हुआ  अतिकृत
272मानसिक भाव छिपाना  अवहित्था
273मृत्यु का इच्छुक मूमुर्षु
274मोहजनित प्रेम  आसक्ति
275यज्ञ करने या कराने वाला याज्ञिक
276युग का निर्माण करने वाला युग निर्माता
277युद्ध करने या लड़ने की इच्छा रखने वाला युयुत्सु
278युद्धि करने या लड़ने की इच्छा युयुत्सा
279रथ पर चढ़ा हुआ योद्धा  अधिरथ
280राजनीतिज्ञों एवं राजपूतों की कला कूटनीति
281रात को चलने फिरने वाला निशाचर
282रात्रि के चार बने का समय ब्रह्ममुहुर्त
283रास्ता दिखाने वाला पथप्रदर्शक
284लोहे का काम करनेवाला  लोहार
285वर्तमान से पूर्व का भूतपूर्व
286वह जो भूतकाल की तिथि से लागू हुआ हो भूतपूर्व
287वह मास जो चन्द्रमा की गति के अनुसार गिना जाता हैं चन्द्रमास
288वह व्यक्ति जिसके एक के ऊपर दूसरा दाँत हो  अधिकदन्ती
289वह व्यक्ति जो दूर की बातों को सोच लेता हैं दूरदर्शी
290वह हथियार जो फेंककर चलाया जाय  अस्त्र
291विपत्ति के समय विधान करने का धर्म  आपद्धर्म
292विवाहिता स्त्री से उत्तपन्न पुत्र औरस
293वृक्षों को जल से थोड़ा सींचना  आसेक
294व्यर्थ प्रलाप करना  अतिकथा
295शक्ति के अनुसार यथाशक्ति
296शाप दिया हुआ  अभिशप्त
297शाम का वह समय जब पशु चरकर लौटते हैं गोधूलि
298शीघ्रता का अभाव  अत्वरा
299शोभा हेतु फूल रेखे जाने वाला पात्र फूलदान
300श्रद्धा से जल पीना  आचमन
301सबसे ऊँचा उच्चतम
302समुद्र की आग बड़वानल
303साधारण नियम के विरुद्ध बात  अपवाद
304सिर से लेकर पैर तक  आपादमस्तक
305सेना के आगे लड़नेवाला योद्धा  अग्रयोधा
306सेना के ठहरने का स्थान छावनी या शिविर
307स्वयं अपने को मार डालना  आत्महत्या
308स्वर्ग की नर्तकी अप्सरा
309हमेशा घूमते रहने वाला यायाचर
310हित न चाहनेवाला  अनहितू
311होठों पर चढ़ी पान की लाली  अधरज
312जिसका दूसरा उपाय न हो  अनन्योपाय
313जिसका अनुभव किया गया हो  अनुभूत
314जो जन्म लेते ही मर जाय  आदण्डपात
315जो शोक करने योग्य न हो  अशोच्य
316महल के भीतर का भाग  अन्तःपुर
317अनिश्चित जीविका  आकाशवृत्ति
318जिस पेड़ के पत्ते झड़ गए हों  अपर्ण
319उच्च वर्ण के पुरुष के साथ निम्न वर्ण की स्त्री का विवाह  अनुलोम विवाह
320जिसका पति आया हुआ है  आगत्पतिका
321जिसका पति आनेवाला है  आगमिष्यत्पतिका
322बच्चे को पहले पहल अन्न खिलाना अन्नप्राशन
323आम का बगीचा  अमराई
324राजा का बगीचा  आक्रीड
325अनुसंधान की इच्छा  अनुसंधित्सा
326किसी के शरीर की रक्षा करनेवाला  अंगरक्षक
327किसी को भय से बचाने का वचन देना  अभयदान
328चोट खाया हुआ  आहत
329जिसे पान करने से अमर हो जाय  अमृत
330जिसका अनुभव किया जा सके  अनुभवजन्य
331जो अपमानित हो चुका हो  अनादृत
332अभिनय करने योग्य  अभिनेय
333उपासना करने योग्य  उपास्य
334ऐसी भूमि जो उपजाऊ नहीं हो  ऊसर
335जो इन्द्रियों के बाहर हो  इन्द्रियातीत
336जो उड़ा जा रहा हो  उड्डीयमान
337नई योजना का सर्वप्रथम काम में लाने का उत्सव  उद्घाटन
338भूमि को भेदकर निकलनेवाला  उद्भिद्
339तिनकों से बना घर  उटज
340जो छाती के बल चले  उरग
341ऊपर जानेवाला  ऊर्ध्वगामी
342ऊपर गया हुआ  ऊर्ध्वगत
343लाली मिल हुआ काले रंग का  ऊदा
344छाती का घाव  उरक्षत
345अन्य देश का पुरुष  उपही
346आकाश से तारे का टूटना  उपप्लव
347गरमी से उत्पन्न  उष्मज
348स्वप्न में बकझक करना  उचावा
349उभरा या लाँधा हुआ  उत्क्रान्त
350दो दिशाओं के बीच की दिशा  उपदिशा
351अँगुलियों में होनेवाला फोड़ा  इकौता
352त्वचा के ऊपर निकला हुआ मस्सा  इल्ला
353गर्भिणी स्त्री की लालसा  उकौना
354जो बहुत कुछ जानता हो  बहुज्ञ
355नीचे लिखा हुआ  निम्नलिखित
356ऊपर कहा गया।  उपर्युक्त
357बुरी बुद्धिवाला  कुबुद्धि
358चारों ओर चक्कर काटना  परिक्रमा
359जिसका कोई आसरा न हो  निराश्रित
360जिसमें विष न हो  निर्विष
361जिसका धव (पति) मर गया हो  विधवा
362जिसका पति जीवित हो  सधवा
363जो बरतन बेचने का काम करे  कसेरा
364जिसे कर्तव्य न सूझ रहा हो  किंकर्त्तव्यविमूढ़
365जो तीनों कालों की बात जानता हो  त्रिकालज्ञ
366पन्द्रह दिनों का समूह  पक्ष
367पढ़नेवाला  पाठक
368बाँचनेवाला  वाचक
369सुननेवाला  श्रोता
370बोलनेवाला  वक्ता
371लिखनेवाला  लेखक
372लेख की नकल  प्रतिलिपि
373जो सब देशों का हो  सार्वदेशिक
374जो आँखों के सामने हो  प्रत्यक्ष
375जानने की इच्छा  जिज्ञासा
376जानने को इच्छुक/इच्छावाला  जिज्ञासु
377जिसे प्यास लगी हो  पिपासु/प्यासा
378जो मीठा बोले  मधुरभाषी
379जो देर तक स्मरण के योग्य हो  चिरस्मरणीय
380समाज से संबंध रखनेवाला  सामाजिक
381केवल फल खाकर रहनेवाला  फलाहारी
382शासन हेतु नियमों का समूह  संविधान
383दस वर्षों का समूह  दशक
384सौ वर्षों का समूह  शताब्दी
385जिसके होश ठिकाने न हो  मदहोश
386लेने की इच्छा  लिप्सा
387जी बहुत बातें बनाए  बातूनी
388जो नाप तौलकर खर्च करे मितव्ययी
389व्याकरण जाननेवाला  वैयाकरण
390जिसे तनिक भी लज्जा न हो  निर्लज्ज
391शिव का उपासक  शैव
392विष्णु का उपासक  वैष्णव
393शक्ति का उपासक  शाक्त
394जो तत्त्व सदा रहे  शाश्वत
395जो जिन के मत को माने  जैनी
396जो बुद्ध के मत को माने  बौद्ध
397विनोबा के मत को माननेवाला  सर्वोदयी
398इतिहास से संबंधित  ऐतिहासिक
399जो कठिनाई से साधा जाय  दुःसाध्य
400जो सुगमता से साधा जाय  सुसाध्य
401जो आसानी से मिल जाय  सुलभ
402जो कठिनाई से मिले  दुर्लभ
403जिसका जवाब न हो  लाजवाब
404जिसका इलाज न हो  लाइलाज
405जो हर काम देर से करे  दीर्घसूत्री
406जो किसी काम की जिम्मेदारी ले  जवाबदेह
407हाथ की लिखी पुस्तक या मसौदा  पांडुलिपि
408पूर्वी देशों से संबंध रखनेवाला  पूर्वीय
409कम बोलनेवाला  मितभाषी
410जो किसी की ओर से बोले  प्रवक्ता
411दो बातों या कामों में से एक  वैकल्पिक
412गिरने से कुछ ही बची इमारत  ध्वंसावशेष
413वीर पुत्रों को जन्म देनेवाली  वीरप्रसूता
414वीरों द्वारा भोगी जानेवाली  वीरभोग्या
415जिसके गर्भ में रत्न हो  रत्नगर्भा
416जो सबको समान रूप से देखे  समदर्शी
417जो सब जगह व्याप्त हो।  सर्वव्यापक
418जो रोग एक से दूसरे को हो  संक्रामक
419जो दो बार जन्म ले  द्विज
420पिता से प्राप्त सम्पत्ति आदि  पैतृक
421जो अपनी इच्छा से सेवा करे  स्वयंसेवक
422गोद ली संतान  दत्तक
423भूगोल से संबंध रखनेवाला  भौगोलिक
424पृथ्वी से संबंध रखनेवाला  पार्थिव
425साधारण लोगों में कही जानेवाली बात  किंवदंती
426किसी कलाकार की कलापूर्ण रचना  कलाकृति
427लोगों में परंपरा से चली आई कथा  दन्तकथा
428जिसका नाश अवश्यंभावी हो  नश्वर
429जो पुराणों से संबंध रखता हो  पौराणिक
430जो वेदों से संबंध रखता हो  वैदिक
431जिसका जन्म पसीने से हो  स्वेदज
432जेर से उत्पन्न होनेवाला  जरायुज
433विमान चलानेवाला  वैमानिक
434
435सबके साथ मिलकर गाया जानेवाला गान  सहगान
436जो सब कालों में एक समान हो  सार्वकालिक
437जो सम्पूर्ण लोक में हो  सार्वलैकिक
438जिसका उदाहरण दिया गया हो  उदाहृत
439जिसका उद्धरण दिया गया हो  उद्धृत
440जिस स्त्री के सन्तान न होती हो  बाँझ
441शिव के गण  प्रमथ
442शिव के धनुष  पिनाक
443जहाँ शिव का निवास है  कैलाश
444इन्द्र का सारथि  मातलि
445इन्द्र का घोड़ा  उच्चैःश्रवा
446इन्द्र का पुत्र  जयन्त
447इन्द्र का बाग  नन्दन
448इन्द्र का हाथी  ऐरावत
449ईश्वर या स्वर्ग का खजाँची  कुबेर
450मध्य रात्रि का समय  निशीथ
451लताओं से आच्छादित रमणीय स्थान  निकुंज
452सीपी, बाँसी, सूकरी, करी, धरी और नरसल से बनी माला  बैजयन्तीमाला
453मरने के करीब  मुमूर्षु/मरणासन्न
454पर्वत के नीचे की समभूमि (तराई)  उपत्यका
455जहाँ नाटक का अभिनय किया जाय  रंगमंच
456जिस सेना में हाथी, घोड़े, रथी और पैदल हों  चतुरंगिणी
457जो काम कठिन हो  दुष्कर
458दिन में होनेवाला  दैनिक
459
460किए गए उपकार को माननेवाला  कृतज्ञ
461किए गए उपकार को न माननेवाला  कृतघ्न
462जिसका रूप अच्छा हो  सुरूप
463अच्छा बोलनेवाला  वाग्मी/सुवक्ता
464बुरे मार्ग पर चलनेवाला  कुमार्गगामी
465जिसका आचरण अच्छा हो  सदाचारी
466जिसका आचरण अच्छा नहीं हो  दुराचारी
467जिसमें दया हो  दयालु
468जिसमें दया नहीं हो  निर्दय
469जो प्रशंसा के योग्य हो  प्रशंसनीय
470जिसमें कपट न हो  निष्कपट
471जिसमें कोई विकार न आता हो  निर्विकार
472समान समय में होनेवाला  समसामयिक
473जो आकाश में विचरण करे  खेचर
474वह पहाड़ जिससे आग निकले  ज्वालामुखी
475जो मोह नहीं करता है  निर्मोही
476जो प्रतिदिन नहाता हो  नित्यस्नायी
477मोक्ष या मुक्ति की इच्छा रखनेवाला  मुमुक्षु
478जो राजा/राज्य से द्रोह करे  राजद्रोही
479किसी का पक्ष लेनेवाला  पक्षपाती
480इतिहास को जाननेवाला  इतिहासज्ञ
481पाप करने के अनन्तर स्वयं दंड पाना  प्रायश्चित
482जिस शब्द के दो अर्थ हों  श्लिष्ट
483अपना नाम स्वयं लिखना  हस्ताक्षर
484जो सबको प्रिय हो  सर्वप्रिय
485जो हमेशा बदलता रहे  परिवर्तनशील
486अपना मतलब साधनेवाला  स्वार्थी
487कुसंगति के कारण चरित्र पर दोष  कलंक
488सतो गुण का  सात्त्विक
489रजो गुण का  राजसिक
490तमो गुण का  तामसिक
491
492नीति को जाननेवाला  नीतिज्ञ
493महान् व्यक्तियों की मृत्यु  निधन
494व्यक्तिगत आजादी  स्वतंत्रता
495सामूहिक आजादी  स्वाधीनता
496जिसके आरपार देखा जा सके 
497जिसकी गर्दन सुन्दर हो  सुग्रीव
498अनुचित बातों के लिए आग्रह  दुराग्रह
499जो नया आया हुआ हो  नवागन्तुक
500जो नया जन्म हुआ हो  नवजात
501जो तुरंत जन्मा है  सद्यःजात
502जो अच्छे कुल में जन्म ले  कुलीन
503जो बहुत बोले  वाचाल
504इन्द्रियों को जीतनेवाला  जितेन्द्रिय
505नींद पर विजय प्राप्त करनेवाला  गुडाकेश
506जो स्त्री के स्वभाव का हो  स्त्रैण
507जो क्षमा पाने के लायक हो  क्षम्य
508जो अत्यन्त कष्ट से निवारित हो  दुर्निवार
509जो वचन से परे हो  वचनातीत
510जो सरों (तालाब) में जन्म ले  सरसिज,
511जो मुकदमा लड़ता हो  मुकदमेबाज
512लौटकर आया हुआ  प्रत्यागत
513जो पहरा देता है  प्रहरी/पहरेदार
514सत्य के लिए आग्रह  सत्याग्रह
515जो मुकदमा दायर करे  वादी/मुद्दई
516जो संगीत जानता हो  संगीतज्ञ
517जो कला जानता हो  कलाविद्
518जो जन्म से अंधा हो  जन्मान्ध
519जो पोत युद्ध के लिए हो  युद्धपोत
520जो शत्रु की हत्या करे  शत्रुघ्न
521जो पिता की हत्या करे  पितृहंता
522जो माता की हत्या करे  मातृहन्ता
523जो पत्नी की हत्या करे  पत्नीहंता
524गृह बसाकर रहनेवाला  गृहस्थ
525जो विज्ञान जानता है  वैज्ञानिक
526बिना अंकुश का  निरंकुश
527बिक्री करनेवाला  विक्रेता
528धन देनेवाला  धनद
529प्राण देनेवाली  प्राणदा
530यश देनेवाली  यशोदा
531जो किसी विषय को विशेष रूप से जाने  विशेषज्ञ
532गगन चूमनेवाला  गगनचुंबी
533जो मन को हर ले  मनोहर
534जो सबसे प्रिय हो  प्रियतम
535याचना करनेवाला  याचक
536जो देखने योग्य हो  दर्शनीय
537जो पूछने योग्य हो  प्रष्टव्य
538जो करने योग्य हो  कर्तव्य
539जो सुनने योग्य हो  पूजनीय
540जो सुनने योग्य हो  श्रव्य
541जो तर्क द्वारा सम्मत हो  तर्कसम्मत
542जो पढ़ने योग्य हो  पठनीय
543जंगल की आग  दावानल
544पेट या जठर की आग  जठरानल
545समुद्र की आग  वडवानाल
546जो राजगद्दी का अधिकारी हो  युवराज
547रात और संध्या के बीच की बेला  गोधूलि
548पुत्र की वधू  पुत्रवधू
549पुत्र का पुत्र  पौत्र
550जहाँ खाना (भोजन) मुफ्त मिले  सदाव्रत
551जहाँ दवा दान स्वरूप मिले  दातव्य औषधालय
552जो व्याख्या करे  व्याख्याता
553जो पांचाल देश की हो  पांचाली
554द्रुपद की पुत्री  द्रौपदी
555जो पुरुष लोहे की तरह बलिष्ठ हो  लौहपुरुष
556युग का निर्माण करनेवाला  युगनिर्माता
557यात्रा करनेवाला  यात्री
558तेजी से चलने वाला  द्रुतगामी
559
560जिसकी बुद्धि झट सोच ले  प्रत्युत्पन्नमति
561जिसकी बुद्धि कुश के अग्रभाग में समान हो  कुशाग्रबुद्धि
562वह, जिसकी प्रतिज्ञा दृढ़ हो  दृढ़ प्रतिज्ञ
563जिसने चित्त किसी विषय में दिया है  दत्तचित्त
564जिसका तेज निकल गया है  निस्तेज
565जीतने की इच्छा  जिगीषा
566लाभ की इच्छा/पाने की इच्छा  लिप्सा
567खाने की इच्छा  बुभुक्षा
568किसी काम में दूसरे से बढ़ने की इच्छा  स्पर्धा
569जान से मारने की इच्छा  जिघांसा
570देखने की इच्छा  दिदृक्षा
571करने की इच्छा  चिकीर्षा
572तरने की इच्छा  तितीर्षा
573जीने की इच्छा  जिजीविषा
574मेघ की तरह गरजनेवाला  मेघनाद
575पीने की इच्छा  पिपासा
576वासुदेव के पिता  वसुदेव
577विष्णु का शंख  पाञ्चजन्य
578विष्णु का चक्र  सुदर्शन
579विष्णु की गदा  कौमोदकी
580विष्णु की तलवार  नन्दक
581विष्णु का मणि  कौस्तुभ
582विष्णु का धनुष  शांर्ग
583विष्णु का सारथि  दारुक
584विष्णु का छोटा भाई  गद
585शिव की जटाएँ  कपर्द
586इन्द्र का महल  वैजयन्त
587वर्षा सहित तेज हवा  झंझावात
588कुबेर का बगीचा  चैत्ररथ
589कुबेर का पुत्र  नलकूबर
590कुबेर का विमान  पुष्पक
591अगस्त्य की पत्नी  लोपामुद्रा
592अँधेरी रात  तमिम्रा
593सोलहो कलाओं से युक्त चाँद  राका
594अशुभ विचार  व्यापाद
595मनोहर गन्ध  परिमल
596दूर से मन को आकर्षित करनेवाली गंध  निर्हारी
597मुख को सुगंधित करनेवाला पान  मुखवासन
598कच्चे मांस की गंध  विम्न
599कमल के समान गहरा लाल रंग  शोण
600सफेदी लिए हुए लाल रंग  पाटल
601काला पीला मिला रंग  कपिश
602दुःख, भय आदि के कारण उत्पन्न ध्वनि  काकु
603झूठी प्रशंसा करना  श्लाघा
604वस्त्रों या पत्तों की रगड़ से उत्पन्न आवाज  मर्मर
605पक्षियों का कलरव  वाशित
606बिना तार की वीणा  कोलंबक
607नाटक का आदरणीय पात्र  मारिष
608धोखायुक्त बातचीत 
609पानी से उठा हुआ किनारा  पुलिन
610बालुकामय किनारा  सैकत
611
612नाव से पार करने योग्य नदी  नाव्य
613मछली रखने का पात्र  कुवेणी
614मछली मारने का काँटा  वडिश
615अंडों से निकली छोटी मछलियों का समूह  पोताधान
616केंचुए की स्त्री  शिली
617कुएँ की जगत  वीनाह
618तीन प्रहरों वाली रात  त्रियामा
619वृद्धावस्था से घिरा हुआ  जराक्रान्त
620खाली या रिक्त करानेवाला  रिक्तक/रेचक
621सिर पर धारण करने योग्य  शिरोधार्य
622जिसका दमन करना कठिन हो  दुर्दम्य
623जिसको लाँघना कठिन हो  दुर्लध्य
624जो पापरहित हो  निष्पाप
625सब कुछ खानेवाला  सर्वभक्षी
626जो सहज रूप से न पचे (देर से पचने वाला)  गुरुपाक
627जो दिन में एकबार आहार करे  एकाहारी
628जो अपने से उत्पन्न हुआ हो  स्वयंभू
629जो शत्रु की हत्या करे  शत्रुघ्न
630बहुतसी भाषाओं को बोलनेवाला 
631बहुत सी भाषाओं को जाननेवाला  बहुभाषाविद्
632रोंगटे खड़े करनेवाला  लोमहर्षक
633जिसकी पत्नी साथ नहीं हो  विपत्नीक
634‘जिस समय मुश्किल से भिक्षा भी मिले  दुर्भिक्ष
635हाथ की सफाई  हस्तलाघव
636पके हुए अन्न की भिक्षा  मधुकरी
637किसी के पास रखी हुई दूसरे की सम्पत्ति  थाती/न्यास
638पर्दे में रहनेवाली नारी  पर्दानशीं
639जो विषय विचार में आ जाय  विचारागम्य
640लम्बी भुजाओं वाला  दीर्घबाहु
641जिसका घर्षण कठिनता से हो  दुर्घर्ष
642जिसके दोनों ओर जल है  दोआव
643वर्षा के जल से पालित।  देवमातृक
644पृथ्वी को धारण करनेवाला  महीधर
645जो सम नहीं है, उसे सम करना  समीकरण
646जिसे मन पवित्र मानता है  मनःपूत
647अस्तित्वहीन वस्तु का विश्लेषण  काकदन्तपरीक्षण
648बेरों के जंगल में जनमा  बादगयण
649केवल वर्षा पर निर्भर  बारानी
650अधिक रोएँ वाला  लोमश
651द्वीप में जनमा  द्वैपायन
652जिसके सिर पर बाल न हो  खल्वाट
653जो प्रायः कहा जाता है  प्रायोवाद
654सोना, चाँदी पर किया गया रंगीन काम  मीनाकारी
655जिसके सभी दाँत झड़ चुके हों  पोपला
656पूर्णिमा की रात  राका
657अमावस्या की रात  कुहू
658पुत्री का पुत्र  दौहित्र/नाती
659इस्लाम पर विश्वास न करनेवाला  काफिर
660ईश्वर द्वारा भेजा गया दूत  पैगम्बर
661कलम की कमाई खानेवाला  मसिजीवी
662कुएँ के मेढ़क के समान संकीर्ण बुद्धिवाला  कूपमंडुक
663काला पानी की सजा पाया कैदी  दामुल कैदी
664किसी काम में दखल देना  हस्तक्षेप
665गणपति का उपासक  गाणपत्य
666घास खानेवाला  तृणभोजी
667स्थिर रहनेवाली वस्तु  स्थावर
668छोटी चीज को बड़ी दिखानेवाला यंत्र  खुर्दबीन
669जवाहर बेचने/परखने वाला  जौहरी
670जहाँ से गंगा निकली  गंगोत्री
671जल में रहनेवाली सेना  नौसेना
672जहाँ किताबें छपती हैं  छापाखाना
673जहाँ रुपये ढाले जाते हैं  टकसाल
674जहाँ घोड़े बाँधे जाते हैं  घुड़साल
675जिसको पूर्व जन्म की बातें याद हैं  जातिस्मर
676जिसके आधार पर रास्ता आनंदपूर्ण हो  संबल
677जिसपर चित्र बनाया जाय  चित्रपट
678जिसके द्वारा चित्र बनाया जाय  तूलिका
679जिसके नाखून सूप के समान हो  शूर्पणखा
680जिस नारी की बोली कठोर हो  कर्कशा
681जिसका आशय महान् हो  महाशय
682जिसका यौवन क्षत नहीं हुआ  अक्षत यौवन
683जिसे एक ही सन्तान होकर रह जाय  काकबन्ध्या
684जिसे जीवन से विराग हो गया हो वीतरागी
685जिसकी सृष्टि की गई हो बड़भागी
686जिसका भाग्य बड़ा हो परीक्षित
687जिसकी परीक्षा ली जा चुकी हो विश्वंभर
688जो विश्वभर का भरणपोषण करे 
689जिसकी राह गलत हो गुमराह
690जो बहुत छोटा न हो नातिलघु
691जो प्रकाशयुक्त हो भास्वर
692जिसके अंग  गल गए हों प्रत्यंग
693जिसकी इच्छा न की जाती हो अनभिलषित
694जिसके दर्शन प्रिय माने जाएँ प्रियदर्शन
Total
1
Shares
2 comments
Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts
visheshan
Read More

विशेषण

Table of Contents Hide विशेषणप्रविषेशणविशेषण के भेदतुलनात्मक विशेषणविशेषणों की रचना विशेषण संज्ञा और सर्वनाम की विशेषता प्रकट करने…
Read More

अनेकार्थी शब्द

अनेकार्थी शब्द विभिन्न प्रसंगों से अनेक अर्थों में प्रयुक्त होने वाले शब्द ‘अनेकार्थी शब्द’ कहलाते हैं | ऐसे…
Read More

क्या होती है प्रायद्वीपीय नदियाँ तथा उनकी अपवाह द्रोणियाँ?

प्रायद्वीपीय नदियाँ भारत के पश्चिमी तट पर स्थित पर्वत श्रृंखला को पश्चिमी घाट  या सह्याद्रि कहते हैं। भारत में…