कब और क्यों मनाते हैं अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस?

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस

  • अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बालिका दिवस मनाने की पहल एक गैर-सरकारी संगठन ‘प्लान इंटरनेशनल’ प्रोजेक्ट के रूप में की गई थी ।
  • इस संगठन ने ‘क्योंकि मैं एक लड़की हूं’ नाम से एक अभियान की भी शुरुआत की थी ।
  • अभियान को इंटरनेशनल लेवल पर विस्तार करने के लिए कनाडा सरकार से संपर्क किया तथा कनाडा सरकार ने 55वें आम सभा में इस प्रस्ताव को रखा ।
  • 19 दिसंबर, 2011 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 11 अक्तूबर को अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस घोषित करने का एक प्रस्ताव पारित किया गया था।
  • पहला अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11 अक्टूबर, 2012 को मनाया गया और उस समय इसका थीम ‘बाल विवाह को समाप्त करना’ था ।
  • अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस प्रतिवर्ष 11 अक्तूबर को मनाया जाता है।
  • वर्ष 2021 की थीम:‘डिजिटल जनरेशन, अवर जनरेशन’

उद्देश्य

  • बालिकाओं के अधिकारों का संरक्षण करना
  • उनके समक्ष आने वाली चुनौतियों एवं कठिनाईयों की पहचान करना
  • समाज में जागरूकता लाकर बालिकाओं को बालकों के समान अधिकार दिलाना

भारत सरकार की प्रमुख पहलें

  • बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ
  • सुकन्या समृद्धि योजना
  • किशोरियों के सशक्तीकरण के लिये राजीव गांधी योजना (सबला), आदि